असीम अरुण कानपुर और ए सतीश गणेश वाराणसी के पहले पुलिस कमिश्नर बने

आईपीएस असीम अरुण (बाएं) कानपुर और ए सतीश गणेश वाराणसी के पहले पुलिस कमिश्नर होंगे.

आईपीएस असीम अरुण (बाएं) कानपुर और ए सतीश गणेश वाराणसी के पहले पुलिस कमिश्नर होंगे.

Lucknow News: उत्तर प्रदेश सरकार ने वाराणसी और कानपुर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू कर दी है. असीम अरुण कानपुर और ए सतीश गणेश वाराणसी पहले पुलिस कमिश्नर होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 9:05 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने नोएडा (NOIDA) और लखनऊ (Lucknow) के बाद दो बड़े शहरों में वाराणसी (Varanasi) और कानपुर (Kanpur) में भी कमिश्नर प्रणाली (Commissioner System) लागू कर दी है. कैबिनेट से प्रस्ताव पास होने के बाद इस पर नोटिफिकेशन भी जारी हो गया है. वहीं सीनियर आईपीएस और इस समय डायल 112 की जिम्मेदारी संभाल रहे असीम अरुण (Aseem Arun) कानपुर के पहले पुलिस कमिश्नर (First Police Commissioner) होंगे. वहीं ए सतीश गणेश (A Satish Ganesh) वाराणसी के पहले पुलिस कमिश्नर होंगे.

इसके साथ ही कई आईपीएस अफसरों को नई तैनाती दी जा रही है, इसमें कानपुर और वाराणसी के कप्तान भी शामिल हैं. जानकारी के अनुसर वाराणसी में अब तक एसएसपी रहे अमित पाठक को गाजियाबाद में डीआईजी/एसएसपी पद पर भेजा जा रहा है. वहीं कानपुर और वाराणसी में भी आईजी और डीआईजी रैंक के अफसरों के साथ एसपी रैंक के कई अफसरों की तैनाती लिस्ट तैयार हो रही है.

ये होगी व्यवस्था

बता दें दोनों ही जिलों को दो-दो हिस्सों में बांट दिया गया है. वाराणसी में वाराणसी नगर और ग्रामीण और कानपुर में कानपुर नगर व कानपुर आउटर के रूप में बांटा गया है. कैबिनेट के निर्णय के बाद अब उक्त दोनों जिलों में पुलिस कमिश्नर की तैनाती की जा रही है. वाराणसी नगर में पुलिस कमिश्नर और ग्रामीण में एसपी को कमान सौंपी जाएगी. इसी तरह कानपुर नगर में पुलिस कमिश्नर और कानपुर आउटर में एसपी को जिम्मेदारी दी जाएगी. जिलाधिकारी का दखल ग्रामीण क्षेत्रों में ही रहेगा. नगर क्षेत्र कमिश्नरेट में कानून व्यवस्था में जिलाधिकारी का दखल नहीं रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज