औरैया पुलिस ने बयान कबूल कराने के लिए दी थर्ड डिग्री, 7 में से दो लड़कों की हालत नाजूक
Lucknow News in Hindi

औरैया पुलिस ने बयान कबूल कराने के लिए दी थर्ड डिग्री, 7 में से दो लड़कों की हालत नाजूक
आरोप है कि पुलिस ने बयान कबूलने के लिए लड़कों पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया. (सांकेतिक तस्वीर)

औरैया में किशोर की मौत मामले में पुलिस (Police) ने 7 लड़कों को हिरासत में लेकर थर्ड डिग्री (Third Degree) दी. जिससे दो लड़कों की हालत गंभीर बनी हुई है. दोनों अस्पताल में भर्ती हैं.

  • Share this:
औरैया. उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में पुलिस (Police) की बर्बरता का मामला सामने आया है. विधूना कोतवाली पुलिस की थर्ड डिग्री (Third Degree) से दो लड़कों की हालत गंभीर हो गयी है. दोनों का फिलहाल इलाज चल रहा है. पुलिस ने किशोर की डूबने से हुई मौत के मामले में 7 लड़कों को हिरासत में लिया था. इनसभी पर थाने के हवालात में बंद कर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया गया. जिनमें से दो की हालत गंभीर बनी हुई है.

जानकारी के मुताबिक अंबेडकर नगर इलाके के रहने वाले अजय नामक किशोर की कुछ दिन पहले डूबने से मौत हो गई. इस मामले में पीड़ित परिजनों की शिकायत पर दोनों युवकों घर से गिरफ्तार किया गया. और हवालात में थर्ड डिग्री देकर जबरन किशोर की मौत में हाथ होने की बात कबूलने की कोशिश की गई. इस दौरान पुलिस ने दोनों युवकों को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया.

गायब किशोर का 5 दिन बाद नदी में मिला शव



मृतक किशोर 18 अगस्त को घर से गायब हो गया. जिसके बाद 23 तारीख को नदी में उसका शव मिला. परिजनों ने इस सिलसिले में हत्या का मुकदमा दर्ज कराया. पुलिस ने शक के आधार पर इलाके के सात लड़कों को हिरासत में लेकर थर्ड डिग्री दी.
बयान कबूलने के लिए थर्ड डिग्री देने का आरोप 

लड़कों ने बताया कि विधूना कोतवाल और सीओ ने उन्हें थर्ड डिग्री देकर जबरन बयान कबूलने के लिए दबाव बनाया.

आईजी ने दिया जांच का आदेश 

मामला सामने आने के बाद आईजी कानपुर मोहित अग्रवाल ने जांच का आदेश दिया है. पुलिस पर आरोप है कि वह असली आरोपी को बचा रही है. जबकि पड़ोस के लड़कों को पकड़कर उनपर अत्याचार किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज