Babri Demolition Case Verdict: सीएम योगी बोले- सत्यमेव जयते, देश की जनता से माफी मांगें षड्यंत्र के जिम्मेदार

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

Babri Demolition Case Verdict: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर वोट बैंक की राजनीति के लिए साजिश रची गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2020, 4:33 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बाबरी विध्वंस केस (Babri Demolition Case) में बुधवार को सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले का स्वागत किया है. उन्‍होंने कहा कि सत्यमेव जयते के अनुरूप सत्य की जीत हुई है. इसके साथ ही सीएम योगी ने कांग्रेस पर हमला भी किया.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर वोट बैंक की राजनीति के लिए साजिश रची गई और देश के पूज्य संतों, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, विश्व हिंदू परिषद से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं समाज से जुड़े विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को बदनाम करने की नीयत से उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाकर बदनाम किया गया. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इस षड्यंत्र के लिए जिम्मेदार देश की जनता से माफी मांगें.





कोर्ट ने सभी आरोपियों को किया बरी
बता दें सीबीआई कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. 6 दिसंबर 1992 को मस्जिद गिराए जाने के मामले में कुल 49 आरोपी थे, जिसमें से 17 आरोपियों की मौत हो चुकी है. फैसले के बाद केस में आरोपी कई प्रमुख नेताओं ने राहत की सांस ली.

बाबरी विध्वंस केस में फैसला सुनाते हुए जज एसके यादव ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक सिंघल के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं हैं. विवादित ढांचा गिराने की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी. ये घटना अचानक हुई थी. 12 बजे विवादित ढांचा के पीछे से पथराव शुरू हुआ. अशोक सिंघल ढांचे को सुरक्षित रखना चाहते थे, क्योंकि ढांचे में मूर्तियां थीं. कोर्ट ने कहा कि फोटो कॉपी की मूल प्रति प्रस्तुत नहीं की गई. ऋतंंभरा और कई अन्य अभियुक्तों के भाषण के टेप को सील नहीं किया गया. टेप में टैंपरिंग की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता.

इनपुट: अजीत सिंह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज