Babri Masjid Case: सीबीआई कोर्ट के फैसले को चुनौती, अयोध्या के हाजी ने इलाहाबाद HC में दाखिल की याचिका

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामला फिर पहुंचा कोर्ट. . (File photo)

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामला फिर पहुंचा कोर्ट. . (File photo)

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले (Babri Masjid Case) में लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत द्वारा मामले के सभी आरोपियों को बरी किए जाने के खिलाफ लखनऊ बेंच में याचिका दायर की गई है।.

  • Share this:

लखनऊ. बाबरी मस्जिद विध्वंस मामला (Babri Masjid Case) एक बार फिर कोर्ट पहुंच गया है. लखनऊ की सीबीआई कोर्ट के आदेश के खिलाफ शुक्रवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) में एक याचिका दाखिल की गई है.याचिका हाजी महबूब द्वारा दायर की गई है, जो अयोध्या सूट में याचिकाकर्ता है. बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत द्वारा मामले के सभी आरोपियों को बरी किए जाने के खिलाफ लखनऊ बेंच में याचिका दायर की गई है.

सीबीआई विशेष कोर्ट के फैसले के खिलाफ लखनऊ बेंच में क्रिमिनल रिवीजन पिटीशन दाखिल किया गया है. अयोध्या के हाजी महबूब और हाजी एकलाख ने याचिका दाखिल की है. ढांचा ध्वंस मामले में ये दोनों याचिकाकर्ता गवाह भी थे.


मस्जिद के डिजाइन को इकबाल अंसारी ने किया खारिज
अयोध्या में बाबरी मस्जिद के स्थान पर फैजाबाद के रौनाही के धन्नीपुर गांव में मस्जिद बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था. जिसके बाद यहां पर मस्जिद का निर्माण होना था. लेकिन इस मामले में एक नया मोड़ आ गया है.

Youtube Video

ये भी पढ़ें: पहले 25 छात्र और शिक्षक को बताया Corona Positive, फिर 24 घंटे बाद रिपोर्ट आई नेगेटिव



मस्जिद के निर्माण के लिए जिस डिजाइन को तैयार किया गया है, उसे बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने खारिज कर दिया है. उन्होंने इस डिजाइन को खारिज करते हुए कहा कि विदेशों की तर्ज पर मस्जिद की डिजाइन दी गई है. हम भारत के लोग हैं और हम भारतीय शैली पर मस्जिद को स्वीकार करेंगे.  इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या ही नहीं, बल्कि देश का कोई भी मुसलमान मस्जिद के इस डिजाइन को स्वीकार नहीं करेगा क्योंकि इसकी डिजाइन विदेशी शैली में की गई है. उनका कहना है कि 70 वर्षों से मस्जिद के लिए लड़ाई लड़ी गई, लेकिन आज अयोध्या के किसी भी पक्षकार से कोई सलाह नहीं ली गई.

इकबाल अंसारी ने जताई नाराजगी

बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने मस्जिद निर्माण समिति से नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा कि अयोध्या के एक भी पक्षकार से मस्जिद की डिजाइन को लेकर कोई भी राय-मशवरा नहीं लिया गया. हमें हिंदुस्तान की शैली पर ही मस्जिद चाहिए. इसलिए अभी के मस्जिद के डिजाइन का मैं विरोध करता हूं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज