Home /News /uttar-pradesh /

पार्क में नमाज पर रोक, देवबंदी उलेमा बोले- नोएडा प्रशासन फैसले पर फिर से करे विचार

पार्क में नमाज पर रोक, देवबंदी उलेमा बोले- नोएडा प्रशासन फैसले पर फिर से करे विचार

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश के नोएडा में सार्वजनिक जगहों पर बिना इजाज़त नमाज़ पढ़ने पर पुलिस ने रोक लगा दी है.

    नोएडा के पार्क में नमाज पर रोक लगाने के मामले में देवबंदी उलेमा कारी इसहाक गोरा ने कहा कि नमाज अदा करने में कोई लंबा समय नहीं लगता. पंद्रह से बीस मिनट में सभी फराइज पूरा कर लिए जाते हैं जबकि देखा गया है कि दूसरे धार्मिक आयोजन कई कई घंटे या पूरी-पूरी रात चलते हैं. ऐसे में नोएडा प्रशासन को एक बार अपने फैसले पर सोचना चाहिए.

    दूसरी तरफ, नोएडा सेक्टर-58 में नमाज पढ़ने के मामले में बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने पुलिस कार्रवाई को अनुचित और एकतरफा बताया है. उन्होंने कहा कि यूपी की बीजेपी सरकार के पास कोई नीति है तो हर जिले में लागू करें. बिना भेदभाव के यह नियम हर जिले में लागू क्यों नहीं होता. एकतरफा कार्रवाई अति गैर जिम्मेदाराना है.

    कांवड़ियों पर फूल बरसाने वाली यूपी पुलिस को नमाज से दिक्कत होती है: ओवैसी

    वहीं, इस मुद्दे को लेकर एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर यूपी पुलिस पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा कि कांवड़ियों के लिए फूल बरसाने वाली पुलिस को हफ्ते में एक बार पढ़ी जाने वाली नमाज़ से दिक्कत होती है

    क्या है मामला?

    उत्तर प्रदेश के नोएडा में सार्वजनिक जगहों पर बिना इजाज़त नमाज़ पढ़ने पर पुलिस ने रोक लगा दी है. पुलिस ने ये फ़ैसला नोएडा सेक्टर 58 के एक सरकारी पार्क में होने वाली नमाज़ की शिकायत मिलने पर लिया.

    नोएडा के पार्कों में नमाज़ को रोकने के लिए पास के गांव वालों ने पुलिस को शिकायत की थी. न्यूज़ 18 इंडिया को वो शिकायती चिट्ठी मिली है. 16 दिसम्बर को दर्ज कराई गई इस शिकायत में पुलिस से पार्क में नमाज़ को रोकने की मांग की गई थी.

    ये भी पढ़ें-

    ओवैसी के कांवड़ यात्रा और नमाज पर आए Tweet पर भड़की बीजेपी, बताया मानसिक दिवालिया
    कांवड़ियों पर फूल बरसाने वाली यूपी पुलिस को नमाज से दिक्कत होती है: ओवैसी

    Tags: Mayawati, Namaz, Noida news, Up news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर