पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी के बेटे और BSP विधायक विनय शंकर तिवारी के कई ठिकानों पर CBI का छापा

बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी के फर्मों पर सीबीआई का छापा
बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी के फर्मों पर सीबीआई का छापा

Lucknow News: हरिशंकर तिवारी (Harishankar Tiwari) और विनय शंकर तिवारी (Vinay Shankar Tiwari) के कई फर्मों पर कई बैंकों के करीब 1500 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 3:37 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी (Harishankar Tiwari) के बेटे और बसपा (BSP) विधायक विनय शंकर तिवारी (Vinay Shankar Tiwari) की कई फर्मों पर सोमवार को एक साथ सीबीआई (CBI) ने छापेमारी की. चिल्लूपार से बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी से जुड़ी फर्म गंगोत्री इंटरप्राइजेज, मैसर्स रॉयल एंपायर मार्केटिंग लिमिटेड, मैसर्स कंदर्प होटल प्राइवेट लिमिटेड के ठिकानों पर छापेमारी की गई है. हरिशंकर तिवारी के बेटे विनय शंकर तिवारी के कई फर्मों पर कई बैंकों के करीब 1500 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप है. बता दें कि इस मामले में आईटी डिपार्टमेंट ने भी कुछ समय पहले समन दिया था.

सीबीआई की टीम ने सोमवार को 1500 करोड़ के बैंक लोन घोटाले के मामले में लखनऊ, गोरखपुर और नोएडा में स्थित गंगोत्री इंटरप्राइजेज समेत अन्य फर्मों के ठिकानों पर छापेमारी की. कंपनी के ऑफिस पहुंची सीबीआई टीम ने घंटों दस्तावेज खंगाले और वहां मौजूद लोगों से पूछताछ की.





बैंक की रकम हड़प कर दूसरी जगह निवेश का आरोप
बताया जा रहा है कि हरिशंकर तिवारी की कई कंपनियों ने राष्ट्रीय बैंकों से लोन लिया था. इसके बाद गंगोत्री इंटरप्राइजेज ने लोन की रकम को समय से वापस नहीं किया. बैंकों का आरोप है कि लोन की रकम को दूसरी जगह निवेश किया गया. जिसके बाद बैंक ने इसकी शिकायत की. इस पर सीबीआई ने सोमवार को कंपनी के कई ठिकानों पर छापेमारी की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज