Home /News /uttar-pradesh /

bhartiya kisan union sacked 7 officials including national vice president rajesh singh chauhan says rakesh tikait nodark

BKU में दो फाड़, नए संगठन ने राजेश चौहान को बनाया राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष, राकेश टिकैत ने 7 लोग किए बर्खास्‍त

भारतीय किसान यूनियन में दो फाड़ हो गए हैं.

भारतीय किसान यूनियन में दो फाड़ हो गए हैं.

Bharatiya Kisan Union: चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की पुण्यतिथि पर भारतीय किसान यूनियन में दो फाड़ हो गए हैं. बीकेयू के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष रहे राजेश सिंह चौहान ने नए संगठन का ऐलान कर किया है, जिसका नाम भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक रखा है. वहीं, भारतीय किसान यूनियन ने चौहान समेत सात पदाधिकारियों को बर्खास्‍त कर दिया है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की पुण्यतिथि पर भारतीय किसान यूनियन (Bharatiya Kisan Union) में दो फाड़ हो गए हैं. इसके साथ किसान आंदोलन का अहम चेहरा रहे राकेश टिकैत और बीकेयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष नरेश टिकैत अलग-थलग पड़ गए हैं. वहीं, भारतीय किसान यूनियन के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष रहे राजेश सिंह चौहान ने किसानों की नाराजगी चलते नए संगठन का ऐलान कर लिया है. उन्‍होंने अपने नए संगठन का नाम भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक रखा है, जिसके वह राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए हैं. जबकि भारतीय किसान यूनियन के यूपी प्रदेश अध्‍यक्ष की जिम्‍मेदारी संभालने वाले हरिनाम सिंह वर्मा को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है.

इस दौरान राजेश सिंह चौहान ने कहा कि मैंने समय-समय पर अपने दृष्टिकोण को सामने रखने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने (भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत और प्रवक्ता राकेश टिकैत) न तो कार्यकर्ताओं की बात सुनी और ना ही किसानों की समस्याओं पर ध्यान दिया. वह गलत संगत में पड़ गए और हमारा अपमान किया. इसके साथ उन्होंने कहा कि मैंने दिल से नरेश टिकैत और राकेश टिकैत का समर्थन किया लेकिन जब चुनाव (उत्तर प्रदेश के हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव) आए तो वह दोनों महेंद्र सिंह टिकैत के आदर्शों से भटक गए. वे राजनीतिक पचड़े में फंस गए और संगठन को राजनीतिक दलों के हाथों की कठपुतली बना दिया. चौहान ने किसी भी राजनीतिक दल का नाम लिए बगैर कहा कि राकेश टिकैत राजनीतिक दलों के प्रभाव में थे. उन्होंने चुनाव में एक पार्टी के लिए प्रचार किया जबकि दूसरी पार्टी का विरोध किया. चौहान ने कहा कि अलग संगठन बनाने का फैसला उनका निजी नहीं है बल्कि उनके कार्यकर्ताओं और किसानों का है.

भारतीय किसान यूनियन ने इन नेताओं को किया बर्खास्‍त
भारतीय किसान यूनियन ने संगठन के खिलाफ गलत नीतियों की वजह से सात पदाधिकारियों को बर्खास्‍त कर दिया है. इसमें संगठन के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष राजेश सिंह चौहान, राष्‍ट्रीय महासचिव अनिल तालान, यूपी के प्रदेश अध्‍यक्ष हरिनाम वर्मा, यूपी/एनसीआर अध्‍यक्ष मांगेराम त्‍यागी, मुरादाबाद मंडल अध्‍यक्ष दिगंबर सिंह, संगठन के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक और यूपी के उपाध्‍यक्ष राजबीर सिंह शामिल हैं. यह प्रेस नोट भारतीय किसान यूनियन के राष्‍ट्रीय महासिचव चौधार युद्धवीर सिंह के नाम से जारी किया गया है. इसके साथ राकेश टिकैत ने कहा कि किसान हितों पर कुठाराघात करते हुए कुछ लोगों ने भारतीय किसान यूनियन से अलग कथित संगठन बनाने की घोषणा की है. किसान हितों के विरोधी ऐसे तत्वों को तत्काल प्रभाव से बीकेयू से बर्खास्त किया गया है. महेंद्र सिंह टिकैत अमर रहें,किसान एकता जिंदाबाद.

Bharatiya Kisan Union, Naresh Tikait, Rakesh Tikait, Kisan Andolan, UP News, भारतीय किसान यूनियन, नरेश टिकैत, राकेश टिकैत, किसान आंदोलन, यूपी न्‍यूज़

राजेश सिंह चौहान समेत सात लोगों को भारतीय किसान यूनियन से बर्खास्‍त किया गया है.

राकेश तिकैत ने केंद्र सरकार पर लगाया आरोप
इससे पहले भारतीय किसान यूनियन के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता और किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि कुछ लोगों के विचार नहीं मिल रहे थे वह संगठन छोड़कर चले गए हैं. साथ ही कहा कि भारतीय किसान यूनियन हमारा संगठन है और उन्‍होंने दूसरा संगठन बना लिया है. राकेश टिकैत ने संगठन में दो फोड़ के लिए केंद्र सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया है. साथ ही कहा कि चंद लोगों के जाने से कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

Tags: Bharatiya Kisan Union, Kisan Andolan, Rakesh Tikait

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर