किसान हित में CM योगी आदित्यनाथ का बड़ा निर्णय, UP की अनाज मंडियों में शुल्क की दर घटाई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (File Photo)
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (File Photo)

मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) की तरफ से ट्वीट कर बताया गया कि मंडियों में विकास कार्यों को गति प्रदान के लिए विकास शुल्क की दर (0.5 प्रतिशत) यथावत रहेगी. यानी अब मंडी परिसर के अंदर व्यापार करने पर वर्तमान में लागू 2.5 प्रतिशत के स्थान पर कुल 1.5 प्रतिशत कर ही देय होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 6:41 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने किसानों के लिए जरूरी मंडियों की बेहतरी लिए बड़ा कदम उठाया है. मुख्यमंत्री ने प्रदेश की मंडियों में बेहतर सुविधा प्रदान करने और मंडियों में कार्य कर रहे व्यापारियों के प्रोत्साहन के लिए मंडी शुल्क की दर को 2 प्रतिशत से घटाकर 1 प्रतिशत करने का आदेश दिया है.

मंडियों में विकास कार्यों को गति प्रदान के लिए विकास शुल्क की दर (0.5 प्रतिशत) यथावत रहेगी. यानी अब मंडी परिसर के अंदर व्यापार करने पर वर्तमान में लागू 2.5 प्रतिशत के स्थान पर कुल 1.5 प्रतिशत कर ही देय होगा. मुख्यमंत्री कार्यालय ने गुरुवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी है.



बता दें केंद्र की मोदी सरकार द्वारा मंडी शुल्क समाप्त करने के बाद प्रदेश में मंडी परिसर के भीतर 2 प्रतिशत मंडी शुल्क और आधा प्रतिशत विकास शुल्क लगाया गया था. योगी सरकार के इस फैसले से मंडियों की वार्षिक आय भी प्रभावित होगी. मंडी शुल्क समाप्त होने से पहले वर्ष 2019-20 में मंडी परिषद की सालाना आय लगभग 2000 करोड़ रुपये थी. वहीं मंडी परिसरों से बाहर शुल्क समाप्त करने के बाद आय घटकर करीब 1200 करोड़ रुपये हो जाने का अनुमान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज