लाइव टीवी

यूपी के गठबंधन में शामिल होना चाहती है लालू की RJD, सपा दे सकती है एक सीट!

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 14, 2019, 11:16 AM IST
यूपी के गठबंधन में शामिल होना चाहती है लालू की RJD, सपा दे सकती है एक सीट!
सवर्ण आरक्षण पर बोले तेजस्वी यादव

सोमवार को तेजस्वी यादव सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे. साथ ही एक साझा प्रेस कांफ्रेंस को भी संबोधित कर सकते हैं.

  • Share this:
यूपी में लोकसभा चुनाव के लिए बने सपा-बसपा गठबंधन में लालू प्रसाद यदाच्व की राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) भी शामिल होने को इच्छुक नजर आ रही है. सूत्रों के मुताबिक आरजेडी यूपी के गठबंधन में शामिल हो सकती है. सपा अपने कोटे से एक सीट आरजेडी को दे सकती है. यूपी के आरजेडी अध्यक्ष अशोक सिंह को सपा अपने सिंबल पर टिकट दे सकती है. बदले में आरजेडी सपा के बिहार अध्यक्ष को अपने टिकट पर चुनाव लड़वा सकती है.

बता दें आरजेडी के तेजस्वी यादव दो दिन के लखनऊ दौरे पर हैं. रविवार देर रात तेजस्वी ने बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात की. दो घंटे चली मुलाकात में कई मुद्दों पर चर्चा हुई. मुलाकात के बाद तेजस्वी ने सपा-बसपा गठबंधन का स्वागत किया. सोमवार को तेजस्वी यादव सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे. साथ ही एक साझा प्रेस कांफ्रेंस को भी संबोधित कर सकते हैं. इस दौरान इस बात का ऐलान भी हो सकता है.

यह भी पढ़ें:  अब सपा-बसपा को कायदे से ‘निपटाने’ में मिलेगी मदद: CM योगी आदित्यनाथ

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव की मायावती से मुलाकात के बाद यूपी का सियासी पार एक बार फिर गरमा गया है. चर्चा शुरू हुई की बसपा बिहार में आरजेडी के साथ जा सकती है. हालांकि मायावती ने अभी इस बात को लेकर अपने पत्ते नहीं खोले हैं. उन्होंने कहा आरजेडी के साथ बिहार में गठबंधन की चर्चा बाद में की जाएगी.

गठबंधन के बाद सबकी निगाहें सीटवार बंटवारे पर, माया के बर्थडे पर हो सकता है ऐलान

मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा केंद्र सरकार की ओर से आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों के लिए 10 फीसदी कोटे का विरोध कर रहे तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी देश भर में 'नागपुर का कानून' लागू करना चाहती है. तेजस्वी ने मुलाकात के बाद कहा, 'मायावती और अखिलेश जी की ओर से लिए गए फैसले का जनता ने स्वागत किया है. आज ऐसा माहौल है जहां वह बाबा साहब के संविधान को खत्म कर नागपुर का कानून लागू करना चाहते हैं.'

यह भी पढ़ें:   BJP को हराने के लिये सपा-बसपा गठबंधन का समर्थन करेगी भीम आर्मी
Loading...

तेजस्वी ने कहा, 'हम मोदी जी को नहीं हराना चाहते, हमारी उनसे कोई निजी दुश्मनी नहीं है. यह विचारधारा की लड़ाई है. हमने हमेशा से बीजेपी और आरएसएस के खिलाफ लड़ाई लड़ी है. हम अपने देश के लिए काम करना चाहते हैं और देश का संविधान बचाना चाहते हैं.'

(इनपुट: अलाउद्दीन)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2019, 11:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...