अपना शहर चुनें

States

यूपी विधानपरिषद चुनाव: BJP ने जारी की लिस्ट, रिटायर्ड IAS अरविंद शर्मा को भी बनाया प्रत्याशी

BJP ने रिटायर्ड IAS अरविंद शर्मा को बनाया प्रत्याशी (File photo)
BJP ने रिटायर्ड IAS अरविंद शर्मा को बनाया प्रत्याशी (File photo)

UP MLC Elections 2021: गौरतलब है कि अरविंद शर्मा (Arvind Sharma) 1988 बैच के गुजरात कैडर के आईएएस रहे हैं. उन्होंने 2001 से लेकर 2013 तक नरेंद्र मोदी के साथ काम किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2021, 10:34 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. विधानपरिषद चुनाव (Legislative Council Election) में नामांकन की अंतिम तिथि 18 जनवरी है. इस बीच शुक्रवार को बीजेपी (BJP) ने प्रत्याशियों के नाम की लिस्ट जारी कर दी. बीजेपी ने गुजरात कैडर के रिटायर्ड IAS अरविंद शर्मा का नाम भी इस लिस्‍ट में शामिल किया हैै. यूपी विधानपरिषद चुनाव के लिए बीजेपी ने उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पूर्व आईएएस अरविंद शर्मा (Arvind Sharma) और काशी क्षेत्र के क्षेत्रीय अध्यक्ष रहे लक्ष्मण आचार्य को प्रत्याशी बनाया है. बता दें कि अरविंद शर्मा ने गुरुवार को बीजेपी का दामन थामा था. प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बीजेपी का पटका पहनाकर उनका स्वागत किया था.

इससे पहले स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि अरविंद शर्मा के आने से पार्टी का भी कद और सम्मान बढ़ेगा. साथ ही संगठन और सरकार को मजबूती मिलेगी. पार्टी की सदस्यता लेेने के बाद पूर्व ब्यूरोक्रेट ने कहा कि बीती रात मुझे पता चला कि बीजेपी ज्वाइन करनी है और मैंने ज्वाइन किया है. पीएम मोदी को अरविंद शर्मा ने धन्यवाद दिया और कहा कि मऊ जिले के बैकवर्ड गांव का व्यक्ति हूं. संघर्ष से आईएएस बना. बिना राजनीतिक बैकग्राउंड के मुझे अगर राजनीति में लाया गया है तो यह बीजेपी और नरेंद्र मोदी ही कर सकते हैं, जो भी जिम्मेदारी दी जाएगी निभाऊंगा.

यूपी विधान परिषद चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की लिस्ट
यूपी विधान परिषद चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की लिस्ट





पीएम मोदी के साथ काम कर चुके हैं अरविंद शर्मा
गौरतलब है कि अरविंद शर्मा साल 1988 बैच के गुजरात कैडर के आईएएस रहे हैं. उन्होंने 2001 से लेकर 2013 तक नरेंद्र मोदी के साथ काम किया. उस वक्त नरेन्द्र मोदी गुजरात के सीएम थे. जब मोदी मुख्यमंत्री रहे तो वह उनके साथ सीएम कार्यालय में रहे. नरेंद्र मोदी पीएम बने तो अपने साथ अरविंद कुमार शर्मा को पीएमओ लेकर आ गए. साल 2014 में वह पीएमओ में संयुक्त सचिव के पद पर रहे. उसके बाद प्रमोशन पाकर सचिव बने. एमएसएमई में भी अहम जिम्मेदारी दी गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज