लाइव टीवी

रणनीति! प्रियंका को गांधी नहीं, प्रियंका वाड्रा के रूप में पेश करेगी BJP

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 12, 2019, 1:17 PM IST
रणनीति! प्रियंका को गांधी नहीं, प्रियंका वाड्रा के रूप में पेश करेगी BJP
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फाइल फोटो

साथ ही कहा है कि अगर कांग्रेस हमलावर हुई तो प्रियंका गांधी को भ्रष्टाचार से जोड़ते हुए उन्हें प्रियंका गांधी नहीं प्रियंका वाड्रा के तौर पर पेश करेगी.

  • Share this:
यूपी में प्रियंका गांधी के रोड शो और उनके इफ़ेक्ट को भांपते हुए बीजेपी ने एक खास रणनीति बनाई है. बीजेपी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ समूची कांग्रेस को यूपी में भाव देने के मूड में नहीं है. हालांकि उसने सपा-बसपा गठबंधन और कांग्रेस से सतर्क रहने की सलाह पार्टी नेताओं को दी है. साथ ही कहा है कि अगर कांग्रेस हमलावर हुई तो प्रियंका गांधी को भ्रष्टाचार से जोड़ते हुए उन्हें प्रियंका गांधी नहीं प्रियंका वाड्रा के तौर पर पेश करेगी. बीजेपी के लोकसभा प्रभारी और केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा के साथ सोमवार को पार्टी मुख्यालय में हुई चुनाव प्रबंधन की बैठक में फिलहाल इसी रणनीति को धार देने पर फैसला हुआ है.

सूत्रों के मुताबिक सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा और महामंत्री संगठन सुनील बंसल के साथ हुई बैठक में यह भी कहा गया कि पहले तो बीजेपी कांग्रेस को किसी भी तरह से वजन नहीं देगी, लेकिन अगर कांग्रेस का हमला होता है तो बीजेपी प्रियंका गांधी को प्रियंका वाड्रा के तौर पर पेश करेगी. इसके साथ प्रियंका की छवि उनके पति के साथ जोड़ते हुए ईडी जांच और करप्शन से जोड़कर समाज के सामने पेश की जाएगी. यह भी बताया जाएगा कि यूपीए सरकार में हुए घोटालों से कैसे राबर्ड वाड्रा ने अपना लंदन में घर बनाया था. ईडी जांच में वह कैसे फंस रहे हैं.

OPINION: जानिए क्या है प्रियंका गांधी का यूपी में 'विनिंग प्लान'?

प्रियंका के रोड शो के पहले ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में जेपी नड्डा और सुनील बंसल के साथ रणनीति तैयार करने को लेकर बैठक कर ली थी. इसके बाद इन सभी ने यूपी में अपनी रणनीति को सरकार और संगठन के बाकी लोगों के साथ साझा किया.

प्रियंका इफ़ेक्ट को लेकर प्रदेश बीजेपी के मीडिया प्रभारी राकेश त्रिपाठी ने कहा, "प्रियंका गांधी नहीं प्रियंका वाड्रा हैं. इस परिवार ने हमेशा से हीगांधी जी के नाम का दुरूपयोग किया है. मोदी सरकार ने गांधीजी के सपनों को जमीन पर उतार कर उन्हें सम्मान दिलाया है. गांधी नाम लगाकर सिर्फ इन्होने देश को धोखा देने का काम किया है. गांधीजी की नीतियों से इनका कोई लेना देना नहीं है. प्रियंका वाड्रा एक सच्चाई है. उनके नाम के साथ जो वाड्रा जुड़ा है वह भ्रष्टाचार का एक बड़ा मॉडल है. कांग्रेस पार्टी ने जिस तरह से तमाम नियमों-कानूनों को ताक पर रखकर राबर्ट वाड्रा को जितना संपन्न बनाने में जो अपनी भूमिका अदा की है, इन सभी प्रश्नों का जवाब अब तक प्रियंका देने से बचती रही हैं. क्योंकि कहा जाता रहा है कि वह राजनीति में नहीं लिहाजा उनसे कोई राजनैतिक प्रश्न नहीं होना चाहिए. लेकिन अब वे कांग्रेस की महासचिव हैं और पूर्वी यूपी की प्रभारी भी हैं, तो राजनैतिक प्रश्न भी होंगे. उनसे यह जरुर पूछा जाएगा कि वाड्रा की संपत्ति का विस्तार कैसे हुआ और लंदन में उनकी प्रॉपर्टी कैसे बनी. अब इन तमाम प्रश्नों का जवाब देना होगा."

ये भी पढ़ें-

जगह- लखनऊ, समय- 5 घंटे, दूरी- 25 किमी, नारा- 'बदलाव की आंधी, राहुल संग प्रियंका गांधी'
Loading...

'ऐसा लगता है इंदिरा गांधी वापस आ गई हैं', प्रियंका की एंट्री ने कांग्रेस में भरा जोश

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2019, 1:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...