लाइव टीवी

यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: बीजेपी ने किया 10 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 29, 2019, 2:58 PM IST
यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: बीजेपी ने किया 10 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान
बीजेपी ने किया 10 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

उत्तर प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि सभी सियासी पार्टियां उपचुनाव में जोर-आजमाइश करने जा रही हैं. सत्तारूढ़ दल BJP की बात हो या समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी या कांग्रेस, सभी इस बार उपचुनाव के मैदान में हैं.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के विधानसभा उपचुनावों (UP Assembly By-Election) के लिए बीजेपी ने प्रत्याशियों की घोषणा रविवार को कर दी. इसी क्रम में बीजेपी ने 10 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया. बीजेपी ने लखनऊ की कैंट सीट पर सुरेश तिवारी को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि समाजावादी पार्टी ने मेजर आशीष चतुर्वेदी को टिकट दिया है. फिलहाल यहां से वर्ष 2017 का चुनाव जीतने वाली डॉ. रीता बहुगुणा जोशी अब सांसद बन चुकी हैं. इस बार उपचुनाव में बसपा भी हाथ आजमा रही है, लिहाजा माना जा रहा है कि यहां चौतरफा मुकाबला देखने को मिल सकता है.

बीजेपी प्रत्याशियों की लिस्ट
बीजेपी प्रत्याशियों की लिस्ट.


11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव

बता दें कि यूपी में 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं. इनमें रामपुर, सहारनपुर की गंगोह, फिरोजाबाद की टूंडला, अलीगढ़ की इगलास, लखनऊ कैंट, बाराबंकी की जैदपुर, चित्रकूट की मानिकपुर, बहराइच की बलहा, प्रतापगढ़, हमीरपुर और अंबेडकरनगर की जलालपुर सीट शामिल है. इन 11 विधानसभा सीटों में से रामपुर की सीट सपा और जलालपुर की सीट बसपा के पास थी और बाकी सीटों पर बीजेपी का कब्जा था.

उत्तर प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि सभी सियासी पार्टियां उपचुनाव में जोर-आजमाइश करेंगी. सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी की बात हो या समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी या कांग्रेस, इस बार सभी दल उपचुनाव में उतर रहे हैं. सत्तारूढ़ बीजेपी के लिए जहां इस उपचुनाव में अपनी सीटें बचाने की चुनौती है, वहीं विपक्षी दलों के लिए यह साख बचाने की चुनौती वाला चुनाव कहा जा रहा है.

वैसे आम तौर पर विधानसभा उपचुनाव को सत्तारूढ़ दल का चुनाव माना जाता है. लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के बाद पहली बार सभी सियासी पार्टियां अलग-अलग होकर अपना चुनाव लड़ रही हैं. यह चुनाव इसलिए भी और ज्यादा खास हो जाता है, क्योंकि सभी सियासी पार्टियों को अपने बेस वोट के साथ-साथ अपनी विचारधारा पर वोट मांगने का मौका मिलेगा.

ये भी पढे़ं:
Loading...

'गुरु जी' ने स्कूल को बना दिया मसाज सेंटर, बच्चों से कराई मालिश

CM योगी का अफसरों को कड़ा संदेश, प्याज की कालाबाजारी करने वालों पर रखें नजर

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 2:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...