लाइव टीवी

बीजेपी के पहले मुस्लिम सांसद चुने गए थे मुख्तार अब्बास नकवी, फिर बने मोदी के मंत्री

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 31, 2019, 6:53 PM IST

1998 में रामपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत गए, ये पहली बार हुआ था कि कोई मुस्लिम चेहरा भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में चुनकर पहली बार संसद पहुंचा था.

  • Share this:
राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रमुख मुस्लिम चेहरों में से एक मुख्तार अब्बास नकवी ने नरेंद्र मोदी की दूसरी सरकार में भी कैबिनेट मंत्री की शपथ ले ली है. मुख्तार अब्बास नकवी का जन्म 15 अक्टूबर 1957 को इलाहाबाद में हुआ. वह बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं और पिछली सरकार में भी अल्पसंख्यक मामलों के कैबिनेट मंत्री थे.

नकवी ने अपनी शिक्षा इलाहाबाद विश्वविद्यालय से प्राप्त की. भारत में आपातकाल घोषित होने पर 1975-77 तक वह जेल में थे. नकवी कभी इंदिरा गांधी को चुनाव में हराने वाले समाजवादी नेता राजनारायण के करीबी थे और उनके प्रभाव में सोशलिस्ट हुआ करते थे. बाद में वह बीजेपी में शामिल हो गए.

चुनावी राजनीति
मुख्तार अब्बास नकवी ने पहले बीजेपी के टिकट पर मऊ जिले की सदर विधानसभा सीट से दो बार विधानसभा पहुंचने की कोशिश की पर असफल रहे. 1991 में वह मात्र 133 मतों से सीपीआई के इम्तियाज अहमद से चुनाव हार गए. उसके बाद 1993 के विधानसभा चुनावों में बसपा के नसीम ने लगभग 10000 मतों से उन्हें चुनाव में हरा दिया.

1998 में रामपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत गए. ये पहली बार हुआ था कि कोई मुस्लिम चेहरा भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में चुनकर पहली बार संसद पहुंचा था. वह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री भी बने थे. वह दो किताबें 'स्याह' और 'दंगा' लिख चुके हैं.

ये भी  पढ़ें: 

डिंपल यादव को कन्नौज में मात देने वाले सुब्रत पाठक को इनाम, मोदी कैबिनेट में होंगे शामिलपीएम मोदी के शपथ ग्रहण से पहले अखिलेश यादव ने किया गृह प्रवेश

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 30, 2019, 5:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर