MLC चुनाव: हनुमान के शरण में बुक्कल नवाब, बोले- अयोध्या में बनेगा राम मंदिर

बुक्कल नवाब ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर जरूर बनेगा. जहां रामलाल विराजमान थे. वहीं पर भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा. बुक्कल नवाब ने सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 17, 2018, 2:34 PM IST
MLC चुनाव: हनुमान के शरण में बुक्कल नवाब, बोले- अयोध्या में बनेगा राम मंदिर
बीजेपी से एमएलसी प्रत्याशी बुक्कल नवाब की फोटो.
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 17, 2018, 2:34 PM IST
सपा छोड़कर बीजेपी का दामन थामने वाले बुक्कल नवाब ने मंगलवार को लखनऊ के हजरतगंज इलाके में स्थित दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में दर्शन करने पहुंचे. न्यूज18 से बातचीत में उन्होंने कहा कि उनका परिवार हनुमान जी का भक्त रहा है. बुक्कल नवाब ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर जरूर बनेगा. जहां रामलाल विराजमान थे. वहीं पर भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा. बुक्कल नवाब ने सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था.

उन्होंने दावा किया कि उनके पूर्वजों ने ही अलीगंज में हनुमान मंदिर भी बनवाया था. वहीं दिखावे की राजनीति करने के विपक्षियों के आरोपों पर उन्होंने कहा कि विपक्ष तो कहता रहेगा. वो कभी हमारे काम की तारीफ तो नहीं करेंगे.

प्राचिन हनुमान मंदिर के दर्शन के दौरान बुक्कल नवाब ने 20 किलो का घंटा भी मंदिर में चढ़ाया. उन्होंने कहा इतिहास के पन्नों को खंगाले तो शहर के दोनों मंदिर हमारे पूर्वज अलिया बेगम ने बनवाया था. जिने नाम से अलिगंज नाम पड़ा है. हमारा परिवार हनुमान जी का भगत है.

बुक्कल नवाब ने पिछले साल सपा और एमएलसी सदस्यता से इस्तीफा देने की शुरुआत की थी. उनके बाद फिर सपा के चार और बसपा के एक विधान परिषद सदस्य ने इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थामा था. बीजेपी ने उन्हें एमएलसी का टिकट देकर रिटर्न गिफ्ट दिया है. बुक्कल नवाब सपा के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे हैं.

यही वजह रही कि सपा ने उन्हें दो बार एमएलसी बनाया था. पिछले साल सूबे में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी सरकार के बनने के बाद उन्होंने एमएलसी और पार्टी दोनों से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद बीजेपी का दामन थाम लिया था.

सपा में रहते हुए बुक्कल नवाब ने कहा था कि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर हर हाल में बनना चाहिए. भगवान राम अयोध्या में पैदा हुए थे, ऐसे में उनका मंदिर अयोध्या में ही बनना चाहिए. वे राम मंदिर के लिए 15 करोड़ रुपये देंगे. इससे पहले उन्होंने कहा था कि भगवान राम का मंदिर बनने के बाद वह उनको मुकुट पहनाएंगे. साथ ही 10 लाख रुपये भी देंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर