बीजेपी की नजर अब यूपी की 'सहकारी समितियों' पर, बनाया ये प्लान

Kumari ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 23, 2019, 4:39 PM IST
बीजेपी की नजर अब यूपी की 'सहकारी समितियों' पर, बनाया ये प्लान
बीजेपी की नजर अब यूपी की 'सहकारी समितियों' पर

बता दें कि सहकारिता में प्रसपा नेता शिवपाल यादव की अभी भी पकड़ बनी हुई है. वे उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक लिमिटेड के सभापति है तो उनके बेटे आदित्य यादव प्रादेशिक सहकारी संघ के चेयरमैन हैं.

  • Share this:
विधानसभा और लोकसभा में परचम लहरा रही बीजेपी (BJP) का मिशन 2022 की तैयारी शुरू हो गई है. सहकारिता के क्षेत्र में बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं को जगह दिलाएगी. बीजेपी की नजर उन सहकारी समितियों पर है जहां शिवपाल यादव का झंडा बुलंद है. दरअसल पशुपालन, दुग्ध विकास और हथकरघा जैसे अन्य समितियों में चुनाव होने हैं, जिसको लेकर बीजेपी ने अपना प्लान तैयार कर लिया है.

चुनाव से पहले बैठक 

लोकसभा चुनाव तक शिवपाल यादव पर मुलायम दिख रही बीजेपी अब सख्त नजर आ रही है. सहकारिता के लिए अब होने वाले चुनाव के लिए महामंत्री संगठन सुनील बंसल, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा, महामंत्री विद्यासागर सोनकर सहित पार्टी पदाधिकारियों ने रणनीति तैयार कर ली है. बीजेपी प्रवक्ता समीर सिंह के मुताबिक इसके लिए एक सहकारिता से जुड़े लोगों की बैठक भी बुलाई गई. बीजेपी की मानें तो बीजेपी कार्यकर्ता सहकारिता को मजबूत करने के उद्देश्य से मैदान में उतर रहे हैं.

लखनऊ स्थित सहकारी समिति का दफ्तर
लखनऊ स्थित सहकारी समिति का दफ्तर


 शिवपाल पर बीजेपी की नजर

बता दें कि सहकारिता में प्रसपा नेता शिवपाल यादव की अभी भी पकड़ बनी हुई है. वे उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक लिमिटेड के सभापति है तो उनके बेटे आदित्य यादव प्रादेशिक सहकारी संघ के चेयरमैन हैं. अभी तक बीजेपी की निगाहें शिवपाल यादव की पार्टी के कब्जे वाले पदों पर नहीं थी, क्योंकि पिछले लोकसभा चुनाव तक बीजेपी की रणनीति शिवपाल यादव के लिए साफ्ट थी.

बीजेपी कार्यकर्ताओं को एडजस्ट करने की तैयारी
Loading...

अब राजनीतिक स्थिति को देखते हुए बीजेपी का नजरिया बदल चुका है. लेकिन प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के नेता दीपक मिश्रा बीजेपी की नीति को सही नहीं मानते. राजनीतिक दांव पेंच के बीच बीजेपी के सामने अभी मिशन 2022 है. विधानसभा चुनाव से पहले सहकारिता के पशुधन, दुग्ध विकास, हथकरघा जैसे जो भी क्षेत्र में चुनाव होने हैं वहां बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं की एडजस्ट करने का जुगत बना चुकी है.

ये भी पढ़ें:

जन्‍माष्‍टमी के रंग में रंगा मथुरा-वृंदावन, 24 अगस्त को CM योगी होंगे शामिल

अखिलेश यादव से मिले ओमप्रकाश राजभर, गठबंधन को लेकर अटकलें तेज

शिमला में फरारी काट रहा था मेरठ बवाल कांड का मुख्य आरोपी सईद, गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 4:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...