Home /News /uttar-pradesh /

मिशन 2019: अमित शाह और राहुल गांधी के यूपी दौरे से गरमाई सूबे की चुनावी फिजा

मिशन 2019: अमित शाह और राहुल गांधी के यूपी दौरे से गरमाई सूबे की चुनावी फिजा

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह लखनऊ, वाराणसी, मिर्जापुर और आगरा का दौरा करेंगे, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में रहेंगे, जहां वे 2019 के लिए चुनावी कैंपेन की रूपरेखा व रणनीति को नई धार देंगे.

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 जून को संतकबीरनगर के मगहर में रैली कर उत्तर प्रदेश में 2019 के लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंक दिया है. पीएम मोदी के बाद अब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी यूपी के दो दिवसीय दौरे पर पहुंच रहे हैं. अमित शाह और राहुल गांधी दोनों ही 4 और 5 जुलाई को यूपी पहुंच रहे हैं. दोनों ही नेता बूथ स्तर पर अपने-अपने दलों की तैयारियों का जायजा लेंगे और सोशल मीडिया वालन्टियर्स को संबोधित करेंगे.

    यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019: राहुल गांधी नहीं, मायावती बनाम मोदी होने वाला है!

    बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह लखनऊ, वाराणसी, मिर्जापुर और आगरा का दौरा करेंगे, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में रहेंगे, जहां वे 2019 के लिए चुनावी कैंपेन की रूपरेखा व रणनीति को नई धार देंगे.

    4 जुलाई को लखनऊ पहुंचने के बाद अमित शाह सीधे प्रधानमंत्री ने संसदीय क्षेत्र वाराणसी जाएंगे, जहां वे करीब 2000 सोशल मीडिया वालान्टियर्स को संबोधित करेंगे. वाराणसी में सोशल मीडिया वालान्टियर्स के अमित शाह की बैठक को बीजेपी की रणनीति का अहम हिस्सा माना जा रहा है. कहा जा रहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में इन वालन्टियर्स के जरिए, बीजेपी एक आक्रामक आईटी रणनीति अपनाने की तैयारी में है. वालन्टियर्स के साथ बैठक के अलावा शाह मिर्जापुर और आगरा में संगठन पदाधिकारियों के साथ भी बैठक करेंगे और मौजूदा बीजेपी सांसदों के कामकाज की फीडबैक भी लेंगे. सूत्रों के मुताबिक सांसदों की फीडबैक के हिसाब से ही अगले चुनाव में टिकट का बंटवारा होगा. नेगेटिव फीडबैक होने की दशा में संसद का टिकट कट सकता है.

    यह भी पढ़ें: 2019 रण के लिए यूपी में खिंचीं तलवारें, बीजेपी और कांग्रेस उतरीं मैदान में

    उधर, राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में उस मृतक किसान के परिजनों से मिलेंगे जिसकी मौत सरकारी अनाज क्रय केंद्र पर हुई थी. कांग्रेस सूत्रों ने राहुल गांधी के दौरे की पुष्टि करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष मृतक किसान के घर संवेदना प्रकट करने जाएंगे. कांग्रेस सूत्रों का कहना था कि यह सरकार की उदासीनता और लापरवाही है जिसकी वजह से सरकारी क्रय केंद्र पर अपने फसल को बेचने के लिए किसान कई दिनों तक इन्तजार करता रहा और उसकी मौत हो गई.

    इसके अलावा राहुल गांधी 2019 लोकसभा चुनाव से पहले बूथ स्तर पर पार्टी की नई रणनीति को लेकर भी कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे.

    Tags: Amit shah, BJP, Congress, Rahul gandhi, लखनऊ

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर