UP By-Election Result: मतगणना के बीच बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय दिल्ली रवाना

ये उपचुनाव लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा था. बीजेपी को हराने के लिए यहां सपा और बसपा एक साथ उतरी हैं. अगर बीजेपी की हार होती है तो उत्तर प्रदेश और देश की राजनीति में गैर कांग्रेसी गठबंधन की नींव पड़ जाएगी.

News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 1:18 PM IST
UP By-Election Result: मतगणना के बीच बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय दिल्ली रवाना
डॉ महेन्द्र नाथ पांडेय, उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष
News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 1:18 PM IST
गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में मतगणना जारी है. दोनों ही जगह समाजवादी पार्टी बीजेपी को पछाड़ती दिख रही है. फूलपुर में तो सपा प्रत्याशी ने शुरू से ही बढ़त बना रखी है. वहीं गोरखपुर में भी 8वें दौर तक आते-आते सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद ने बीजेपी को 10 हजार से ज्यादा मतों से पीछे छोड़ दिया. बीजेपी के इस प्रदर्शन से पार्टी संगठन में हड़कंप मचा हुआ है. मतगणना के बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय दिल्ली रवाना हो गए हैं. प्रदेश अध्यक्ष लखनऊ से दिल्ली के लिए रवाना हुए. इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात नहीं की.

दरअसल ये उपचुनाव लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा था. बीजेपी को हराने के लिए यहां सपा और बसपा एक साथ उतरी हैं. अगर बीजेपी की हार होती है तो उत्तर प्रदेश और देश की राजनीति में गैर कांग्रेसी गठबंधन की नींव पड़ जाएगी. उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटें आती हैं. 2014 में 71 सीटें बीजेपी ने जीती थीं. अगर सपा और बसपा मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ती हैं तो बीजेपी के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी हो सकती है.

बता दें गोरखपुर सीट बीजेपी की परंपरागत सीट रही है. यहां से योगी आदित्यनाथ लगातार पांच बार चुनाव जीतते रहे हैं. वहीं फूलपुर में बीजेपी ने 2014 में पहली बार कमल खिलाया.

उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों गोरखपुर और फूलपुर के लिए 11 मार्च को हुए उपचुनाव में वोटों की गिनती जारी है. दोनों ही सीटों पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आगे चल रहे हैं. गोरखपुर में सपा के प्रवीण निषाद 9, 466 वोटों से आगे चल रहे हैं. फूलपुर से सपा के नागेन्द्र सिंह पटेल 15 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे से खाली हुई गोरखपुर सीट पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं. बसपा के समर्थन के बाद सपा के सिंबल पर चुनाव लड़ रहे निषाद पार्टी के इंजीनियर प्रवीण निषाद मैदान में हैं. वहीं करीब तीन दशक बाद गोरक्षनाथ पीठ का कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं है. बीजेपी ने यहां उपेन्द्र दत्त शुक्ला को मैदान में उतारा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर