लाइव टीवी

मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ मिलकर भाजपा CAA-NRC के बारे में लोगों को करेगी जागरूक !
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 21, 2019, 4:12 PM IST
मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ मिलकर भाजपा CAA-NRC के बारे में लोगों को करेगी जागरूक !
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने मुस्लिम धर्मगुरुओं से मुलाकात लखनऊ में मुलाकात की

मुस्लिम धर्मगुरुओं (Muslim religious leaders) के माध्यम से बीजेपी (BJP) मुसलमानों को नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देगी संदेश.  एक्ट को लेकर फैले भ्रम दूर करेंगे बीजेपी कार्यकर्ता. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने इस मसले पर धर्म गुरुओं से की मुलाक़ात 

  • Share this:
लखनऊ. बीजेपी संगठन (BJP organization) प्रदेश के बिगड़े हालात को संभालने के लिए मैदान में उतरने के लिए कमर कस चुका है. इसकी शुरुआत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (BJP Uttar Pradesh President Swatantra Dev Singh) ने की है और बीजेपी के कार्यकर्ता (BJP workers) इस मुहिम को मुस्लिम धर्मगुरुओं (Muslim religious leaders) के साथ मिलकर आगे बढ़ाएंगे.

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भी कभी थे समर्थक !
प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने इसके लिए मुस्लिम धर्मगुरुओं, सूफी संतों और प्रबुद्ध लोगों के साथ शनिवार को इस मसले पर बैठक की और एनआरसी (NRC)व सीएए (CAA) को लेकर उनके भ्रम को दूर किया. तथ्यों को सामने रखते हुए उन्होंने मौलानाओं से शांति बनाए रखने के लिए अपील करने की गुजारिश की. मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी आश्वासन दिया कि वे सही तथ्यों को लोगों के बीच रखेंगे. प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment act) कोई भी भारतीय (Indian) वह चाहे किसी भी धर्म का मानने वाला हो, उसकी नागरिकता को प्रभावित नहीं करता है. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Former Prime Minister Manmohan Singh) ने भी पड़ोसी देशों के धार्मिक अल्पसंख्यकों को नागरिक आधिकार (Civil rights) देने का अनुरोध किया था. लेकिन अब कांग्रेस (congress) इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है.

इस मसले पर शिया धर्मगुरु कल्बे जव्वाद (Shia Cleric Maulana Kalbe Jawad) ने भी कहा कि नागरिकता संसोधन कानून (Citizenship amendment act) से मुसलमानों को कोई खतरा नहीं है. कोई अगर भ्रम की स्थिति में है तो उसे अपना भ्रम बातचीत कर दूर करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि भ्रम में होने पर राजनीतिक दल इसका फायदा उठाएंगे. बीजेपी संगठन इन मुद्दों को लेकर पहले ही एक कार्यशाला आयोजित कर चुका है. भ्रम की स्थिति को साफ करने के लिए ही कार्यशाला का आयोजन किया गया था.



सबका साथ और सबका विकास
बीजेपी (BJP) के महामंत्री विजय बहादुर पाठक (Vijay Bahadur Pathak) कहते हैं कि पार्टी का एजेंडा पहले से ही सबका साथ और सबका विकास है. प्रदेश में चल रहे विरोध-प्रदर्शन (protest) और हिंसा (violence) की स्थिति पर उनका कहना है कि विपक्ष ये भ्रम फैला रहा है और इस भ्रम को तोड़ने के लिए बीजेपी कार्यकर्ता जमीन तक पहुंचेंगे. इसकी पूरी तैयारी पार्टी कर चुकी है. उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment act) किसी को कुछ देने के लिए है लेने के लिए नहीं है.

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी शांति बनाए रखने की अपील की है. प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मिलने वालों में शिया धर्मगुरु कल्बे जव्वाद (Shia Cleric Maulana Kalbe Jawad), मौलाना रजा हुसैन (Maulana Raza Hussain), सूफी संत मौलाना मोइनुद्दीन (Sufi Saint Maulana Moinuddin), मौलाना अलीशाह मलंग (Maulana Ali Shah Malang) सहित मुस्लिम समाज के नुमाइंदे मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें- ​CAA बवाल: सीएम योगी ने की पूरे प्रदेश में शांति बहाली की अपील, सपा, कांग्रेस पर साधा निशाना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 21, 2019, 4:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर