यूपी में बीजेपी के आईटी टीम के मुखिया का ट्विटर एकाउंट ही हो गया हैक!

एक महिला पर अभद्र जातीय टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी आईटी सेल के प्रदेश प्रभारी संजय राय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले में संजय ने भी खुद पुलिस से तहरीर देकर इस ट्वीट को फर्जी करार दिया है.
एक महिला पर अभद्र जातीय टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी आईटी सेल के प्रदेश प्रभारी संजय राय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले में संजय ने भी खुद पुलिस से तहरीर देकर इस ट्वीट को फर्जी करार दिया है.

एक महिला पर अभद्र जातीय टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी आईटी सेल के प्रदेश प्रभारी संजय राय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले में संजय ने भी खुद पुलिस से तहरीर देकर इस ट्वीट को फर्जी करार दिया है.

  • Pradesh18
  • Last Updated: January 16, 2017, 11:22 AM IST
  • Share this:
यूपी विधानसभा चुनाव में साइबर युद्ध लड़ने की तैयारी कर रही बीजेपी को उस समय तगड़ा झटका लगा, जब उसके आईटी विभाग के मुखिया ही एक ट्वीट के मामले में विवादो में घिर गए.

एक महिला पर अभद्र जातीय टिप्पणी करने के आरोप में बीजेपी आईटी सेल के प्रदेश प्रभारी संजय राय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले में संजय ने भी खुद पुलिस से तहरीर देकर इस ट्वीट को फर्जी करार दिया है, उनका कहना है कि किसी ने उन्हें बदनाम करने और फंसाने की साजिश रची है.

तेलीबाग के बलदेव बिहार कॉलोनी के रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता रामचंद्र तिवारी ने आरोप लगाया है कि संजय राय के ट्विटर अकाउंट से एक ब्राह्मण महिला पर अभद्र टिप्पणी की गई. उनका आरोप है कि राष्ट्रीय पार्टी के जिम्मेदार कार्यकर्ता की हैसियत से संजय राय का ट्वीट अशोभनिय और उन्माद फैलाने वाला है. बीजेपी नेता के ट्विटर अकाउंट की स्क्रीन शॉट भी पुलिस को दी गई है. इसके आधार पर छानबीन के बाद पुलिस ने संजय के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली.



खुद पर एफआईआर की जानकारी होने के कुछ समय बाद ही संजय भी हजरतगंज कोतवाली पहुंचे, उन्होंने दावा किया कि उनका अकाउंट संजय राय यूपी बीजेपी के नाम से है. किसी ने उनके नाम से फर्जी अकाउंट बनाकर ट्वीट किया है. इंस्पेक्टर हजरतगंज डीके उपाध्याय का कहना है कि मामले की जांच साइबर क्राइम सेल को सौप दी गई है.
यही नहीं संजय राय ने अपने ट्विटर एकाउंट से इसकी सफाई भी जारी की है.

sanjay rai bjp
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज