Home /News /uttar-pradesh /

breaking raj babbar sentenced to two years in jail by mp mla court fined rs 8500 nodsp

राज बब्बर को एमपी एमएलए कोर्ट ने सुनाई दो साल की सज़ा, जानें क्या है 26 साल पुराना वो मामला?

कांग्रेस नेता राज बब्बर को चुनाव के दौरान मतदान अधिकारी से मारपीट के मामले में एमपी एमएलए कोर्ट ने दो साल की सज़ा सुनाई है.

कांग्रेस नेता राज बब्बर को चुनाव के दौरान मतदान अधिकारी से मारपीट के मामले में एमपी एमएलए कोर्ट ने दो साल की सज़ा सुनाई है.

Raj Babbar News: कांग्रेस नेता राज बब्बर को चुनाव के दौरान मतदान अधिकारी से मारपीट के मामले में एमपी एमएलए कोर्ट ने दो साल की सज़ा सुनाई है. साथ ही कोर्ट ने 8500 रुपये का जुर्माना भी लगाया है. राज बब्बर सरकारी कार्य बाधा और मारपीट के दोषी ठहराए गए हैं. राज बब्बर फैसला सुनाए जाते समय कोर्ट में मौजूद रहे. 2 मई 1996 में मतदान अधिकारी ने वजीरगंज में एफआईआर दर्ज कराई थी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. फिल्म अभिनेता और कांग्रेस नेता राज बब्बर को एमपी एमएलए कोर्ट ने दो साल की सज़ा सुनाई है, इसके साथ ही कोर्ट ने 8500 रुपये का जुर्माना भी लगाया है. हालांकि जेल की सजा होने के थोड़ी देर बाद ही उन्हें 20-20 हजार रुपये की दो जमानतों और एक निजी मुचलके पर जमानत मिल गई है.

राज बब्बर पर सरकारी कार्य बाधा और मारपीट के दोषी पाया गया है. राज बब्बर फैसले के वक्त कोर्ट में मौजूद रहे. 2 मई 1996 में मतदान अधिकारी ने वजीरगंज में एफआईआर दर्ज कराई थी. राज बब्बर वहां से सपा के प्रत्याशी थे. मतदान अधिकारी से मारपीट का था मामला. बता दें कि एक महीने के अंदर जिला कोर्ट में सज़ा के खिलाफ अपील कर सकते हैं. एमपी एमएलए कोर्ट ने राज बब्बर को दो साल की सज़ा सुनाई है.

क्या हुआ था उस दिन, जिसके लिए मिली राज बब्बर को सजा?
यह मामला 26 साल पुराना यानी 1996 का है. उस वक्त राज बब्बर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार हुआ करते थे. पोलिंग ऑफिसर श्रीकृष्ण सिंह राणा ने दो मई, 1996 को थाना वजीरगंज में राज बब्बर समेत कई और लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसमें कहा गया था कि राज बब्बर अपने समर्थकों के साथ पोलिंग स्टेशम में घुसे और ड्यूटी पर मौजूद अधिकारियों से बुरा व्यव्हार और मारपीट की. इसके अलावा उन्होंने कहा कि बब्बर और उनके समर्थकों ने सरकार काम में बाधा पहुंचाई. इस मारपीट के दौरान कई पोलिंग एजेंट्स को चोंटें आईं थीं.

तब समाजवादी पार्टी में शामिल थे राज बब्बर
23 मार्च 1996 में केस की विवेचना के बाद राजब्बर के खिलाफ धारा 143, 332, 353, 504, 323 और 188 के तहत अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया गया. जिस पर कोर्ट ने आज यानी गुरुवार के दिन फैसला सुनाया है. आपको राज बब्बर 80 की दशक की कई फिल्में में अभिनय कर चुके हैं. जिसके बाद उन्होंने 1989 में वीपी सिंह के नेतृत्व में जनता दल में शामिल हो गए थे. जिसके बाद उन्होंने समाजवादी पार्टी का दामन थामा था.

Tags: Lucknow news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर