लखीमपुर खीरी की घटना को मायावती ने बताया बेहद शर्मनाक, बोलीं- बीजेपी-सपा में फर्क ही क्या रहा?

बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

दरअसल लखीमपुर खीरी जिले में ईसानगर थाना क्षेत्र के पकरिया गांव की रहने वाली 13 साल की मासूम बच्ची (Minior Girl) 14 अगस्त को दोपहर करीब एक बजे अपने घर से शौच के लिए खेत गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 16, 2020, 12:14 PM IST
  • Share this:
लखीमपुर खीरी/लखनऊ. यूपी के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) जिले में एक 13 साल की दलित बच्ची के साथ गैंगरेप और हत्या को लेकर बीएसपी सुप्रमो मायावती (Mayawati) ने योगी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि ऐसी घटनाएं बेहद शर्मनाक हैं. मायावती ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'यूपी के लखीमपुर खीरी के पकरिया गांव में दलित नाबालिग के साथ बलात्कार के बाद फिर उसकी नृशंस हत्या अति-दुःखद और शर्मनाक है. ऐसी घटनाओं से समाजवादी पार्टी और वर्तमान बीजेपी सरकार में फिर क्या अन्तर रहा? सरकार आजमगढ़ के साथ खीरी के दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कार्रवाई करे.'

दरअसल लखीमपुर खीरी जिले में ईसानगर थाना क्षेत्र के पकरिया गांव की रहने वाली 13 साल की मासूम बच्ची 14 अगस्त को दोपहर करीब एक बजे अपने घर से शौच के लिए खेत गई थी. जहां गांव के ही रहने वाले दो युवकों ने नाबालिग बच्ची के साथ रेप किया और उसकी हत्या कर दी. वहीं पुलिस ने बताया है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि हुई है. हालांकि इस रिपोर्ट में आंख फोड़ने और जीभ काटने की बात नहीं है.



एसपी खीरी सतेंद्र कुमार ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि हुई है तो उसी आधार पर मुकदमे में बलात्कार की धारा में तामीम कर दोषियों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई की जा रही है. एसपी ने बताया कि लड़की की आंखें नहीं फोड़ी गई हैं. गन्ने की बधाई लगने से आंखों में घाव हो गया है. मामले में दोषियों खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज