इनकम टैक्स रेड पर भड़कीं मायावती, कहा- 'पहले अपने 2 हजार करोड़ रुपये का हिसाब दे BJP'

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाई आनंद कुमार के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. उन्‍होंने कहा कि बीएसपी लोगों की आवाज के लिए लड़ती रहेगी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 19, 2019, 1:09 PM IST
इनकम टैक्स रेड पर भड़कीं मायावती, कहा- 'पहले अपने 2 हजार करोड़ रुपये का हिसाब दे BJP'
बसपा सुप्रीमो मायावती
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 19, 2019, 1:09 PM IST
बेनामी संपत्ति के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई के बाद पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है. उन्‍होंने कहा कि देश जातिवादी व्यवस्था का शिकार हो रहा है. बसपा सुप्रीमो ने निजी एजेंसी एएनआई से बातचीत में बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग कर रही है. उन्होंने दावा किया कि 2000 करोड़ रुपए से ज्यादा बीजेपी के खातों में रकम आई है. पहले बीजेपी उसका हिसाब दे. मायावती ने आगे कहा कि बीएसपी लोगों की आवाज के लिए लड़ती रहेगी. आज दलितों और ओबीसी वर्ग को निजीकरण के जरिए खत्म करने की कोशिश की जा रही है.

बसपा सुप्रीमो ने कहा, 'जो लोग सरकारी नौकरी में हैं, उनकी नौकरी खत्म करने की कोशिश की जा रही है.' आयकर विभाग की कार्रवाई के बाद मायावती ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि इन्होंने जो अरबों-खरबों की सम्पत्ति बनाई है, उसका हिसाब दें, क्‍योंकि हम तो बिल्कुल खुली किताब की तरह हैं. मायावती बीजेपी और आरएसएस के लोगों को खुली चेतावनी देते हुए कहा कि इससे बीएसपी बिल्कुल भी डरने और घबराने वाली नहीं है.

Noida, Income tax, anand kumar, mayawati brother
बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार की 400 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति जब्‍त कर ली गई है. (फाइल फोटो)


IT की कार्रवाई को बताया षड्यंत्र

इससे पहले मायावती ने ट्वीट कर इस कार्रवाई को राजनीतिक षड्यंत्र बताया. मायावती ने अपने ट्वीट में कहा, 'बीजेपी केन्द्र की सत्ता का अभी भी दुरुपयोग कर अपने विपक्षियों को षड्यंत्र के तहत जबरन फर्जी मामलों में फंसाकर उन्हें प्रताड़ित कर रही है. इसी क्रम में अब मेरे भाई-बहनों आदि को भी परेशान किया जा रहा है. यह अति-निन्दनीय है, लेकिन इससे बीएसपी डरने और झुकने वाली नहीं है.'

आनंद कुमार के खिलाफ की गई है कार्रवाई
आपको बता दें कि बता दें कि आनंद कुमार के खिलाफ बेनामी संपत्ति की जानकारी मिली थी, जिसके बाद 2017 में आयकर विभाग ने उनसे पूछताछ की थी. इनकम टैक्स विभाग के मुताबिक, आनंद कुमार ने दिल्ली के व्यवसायी एसके जैन के सहयोग से कई हजार करोड़ की बेनामी संपत्ति जुटाई थी. इस मामले में एसके जैन को बोगस कंपनी मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार कर लिया था. आनंद कुमार ने वर्ष 2007 से लेकर साल 2012 तक बेनामी संपत्ति बनाई थी. यह वही दौर था जब मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री थीं. आयकर विभाग ने छापा मारकर उनकी 400 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति जब्‍त कर ली है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

UP पुलिस के दरोगा ने बुजुर्ग को पीटकर पैर छूने पर किया मजबूर?

कांग्रेस MLA अदिति सिंह पर हुए हमले में पुलिस का चौंकाने वाला खुलासा, जांच में सामने आई यह बात

बुलंदशहर में ताबड़तोड़ एनकाउंटर, गिरफ्तार हुए 25-25 हजार के इनामी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 19, 2019, 9:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...