अपना शहर चुनें

States

UP: जहरीली शराब से मौत पर मायावती ने जताया दुख, बोलीं- दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करे योगी सरकार

बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)
बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)

मामले में योगी सरकार (Yogi Government) की तरफ से कार्रवाई भी की गई है. लखनऊ और फिरोजाबाद के आबकारी अधिकारियों को हटाने के साथ ही पिछले दिनों लखनऊ पुलिस कमिश्नर पर भी गाज गिरी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2020, 3:18 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में लगातार सामने आ रहे जहरीली शराब कांड (Poisonous Liquor Case) से हड़कंप मचा हुआ है. इसी कड़ी में बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती (Mayawati) ने उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से होने वाली घटनाओं मैं सरकार की कार्रवाई पर संतोष जताया लेकिन दोषी अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को जरूरी बताया. मंगलवार को मायावती ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है. मायावती ने लिखा 'यूपी में जहरीली शराब पीने से गरीबों की मौत व परिवारों के उजड़ने की घटनाएं लगातार हो रही हैं जो अति दुखद है.

उन्होंने लिखा 'प्रयागराज की ताजा घटना में भी अनेक लोगों की मौत के बाद सरकारी कार्रवाई उचित है, किंतु इस समस्या के समाधान के लिए दोषी अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी बहुत जरूरी है. बता दें कि मथुरा, फिरोजाबाद, लखनऊ के बाद प्रयागराज में 6 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें- Covid 19: देश-दुनिया में योगी सरकार की तारीफ, दिल्‍ली और महाराष्‍ट्र को लगी फटकार



मामले में योगी सरकार की तरफ से कार्रवाई भी की गई है. लखनऊ और फिरोजाबाद के आबकारी अधिकारियों को हटाने के साथ ही पिछले दिनों लखनऊ पुलिस कमिश्नर पर भी गाज गिरी थी. वहीं अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज की घटना के बाद सख्त तेवर अख्तियार कर लिए हैं.



जब्त करें संपत्ति, नीलाम कर बांटें मुआवजा

प्रयागराज में हुई मौतों पर सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि जहरीली शराब बेचने वालों पर प्रशासन गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करे. यही नहीं जो भी इस मामले में दोषी पाए जाएं, उनकी संपत्ति को प्रशासन द्वारा जब्त किया जाए और इसके बाद संपत्ति नीलाम कर पीड़ितों को मुआवजा दिया जाए.

प्रियंका ने उठाए सवाल
इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर योगी सरकार को घेरा है. उन्होंने लिखा है कि यूपी में लखनऊ, फिरोजाबाद, हापुड़, मथुरा, प्रयागराज समेत कई जगहों पर जहरीली शराब से मौतें हुई हैं. आगरा, बागपत मेरठ में जहरीली शराब से मौतें हुई थीं. आखिर क्या कारण है कि कुछ दिखावटी कदमों की बजाय सरकार जहरीली शराब के माफियाओं पर कार्रवाई करने में नाकाम रही है? कौन जिम्मेदार है?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज