लाइव टीवी

JNU हिंसा: बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्र सरकार से की न्यायिक जांच की मांग
Lucknow News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 6, 2020, 9:24 AM IST
JNU हिंसा: बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्र सरकार से की न्यायिक जांच की मांग
बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्र सरकार से की न्यायिक जांच की मांग (file photo)

बता दें, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय प्रशासन ने रविवार को कहा कि लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश उपद्रवी परिसर के अंदर घूम रहे थे और वहां संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के साथ लोगों पर हमले कर रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2020, 9:24 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) परिसर में रविवार शाम छात्रों के दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई. जिसमें कई छात्र और टीचर घायल हो गए, जिन्‍हें इलाज के लिए एम्‍स (AIIMS) में भर्ती कराया गया है. इस मामले में सोमवार को बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने न्यायिक जांच की मांग की है. उन्होंने ट्वीट करके लिखा 'JNU में छात्रों व शिक्षकों के साथ हुई हिंसा अति-निन्दनीय व शर्मनाक. केन्द्र सरकार को इस घटना को अति-गम्भीरता से लेना चाहिये. साथ ही इस घटना की न्यायिक जाँच हो जाये तो यह बेहतर होगा.'

बता दें, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय प्रशासन ने रविवार को कहा कि लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश उपद्रवी परिसर के अंदर घूम रहे थे और वहां संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के साथ लोगों पर हमले कर रहे थे. जिसके बाद कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस को बुलाना पड़ा. दिल्ली पुलिस ने कहा कि उसने फ्लैग मार्च किया और जेएनयू प्रशासन से लिखित अनुरोध मिलने के बाद स्थिति को नियंत्रित कर लिया गया. वाम-नियंत्रित जेएनयूएसयू और एबीवीपी ने हिंसा के लिए एक-दूसरे को दोषी ठहराया. छात्र संघ ने आरोप लगाया कि एबीवीपी के सदस्यों द्वारा किए गए पथराव में घोष सहित उसके कई सदस्य घायल हो गए.



जेएनयूएसयू ने दावा किया, "वे पत्थर फेंक रहे थे... छात्रावासों में घुस रहे हैं और छात्रों की पिटाई कर रहे हैं. कई शिक्षकों को भी पीटा गया है." अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने आरोप लगाया कि हिंसा के पीछे वामपंथी छात्र संगठनों का हाथ है. एबीवीपी ने दावा किया कि हमले में लगभग 25 छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए हैं और 11 छात्रों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

ये भी पढे़ं:

बेहमई हत्याकांड: फूलन देवी के नरसंहार से आज भी दहशत में है पीड़ित लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 6, 2020, 9:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर