किसान आंदोलन के समर्थन में उतरीं BSP सुप्रीमो मायावती, 'भारत बंद' के पक्ष में कही ये बात

किसान आंदोलन के समर्थन में उतरीं BSP सुप्रीमो मायावती 
 (फाइल फोटो)

किसान आंदोलन के समर्थन में उतरीं BSP सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)

Kisan Aandolan: बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने केंद्र सरकार से किसानों की मांग मानने की अपील की. 8 दिसंबर के 'भारत बंद' को समर्थन देने का भी किया ऐलान.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2020, 12:35 PM IST
  • Share this:

लखनऊ. केंद्र सरकार (Central Government) के कृषि बिल (Agriculture Act) के विरोध में जहां देशभर के किसान आन्दोलन (Farmers Protest) कर रहे हैं. इसी कड़ी में बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने कहा कि कृषि से जुड़े तीन नए कानून को लेकर किसान लगातार आंदोलन कर रहे हैं, हमारी पार्टी इनका समर्थन करती है. वहीं, 8 दिसंबर को किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए 'भारत बंद' को भी बसपा सुप्रीमो ने अपना समर्थन दिया.

सोमवार को मायावती ने ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार से किसानों की मांग मानने की अपील भी की. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ''कृषि से संबंधित तीन नए कानूनों की वापसी को लेकर पूरे देश भर में किसान आन्दोलित हैं व उनके संगठनों ने दिनांक 8 दिसम्बर को 'भारत बंद' का जो ऐलान किया है, बी.एस.पी उसका समर्थन करती है. साथ ही, केन्द्र से किसानों की मांगों को मानने की भी पुनः अपील''.


उधर, पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी किसानों के समर्थन में पदयात्रा का ऐलान किया है. वहीं, सपा के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस प्रशासन भी मुस्तैद है. इस बीच विक्रमादित्य मार्ग स्थित पार्टी दफ्तर जा रहे समाजवादी पार्टी के एमएलसी राजपाल कश्यप और आशू मलिक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. इस दौरान सपा एमएलसी की पुलिस से झड़प भी हुई.
कमिश्नर बोले- किसी को नजरबंद नहीं किया

अखिलेश यादव की नजरबंदी पर पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने बयान जारी कर कहा है कि किसी को नजरबंद नहीं किया गया है. डीएम कन्नौज ने प्रस्तावित कार्यक्रम को निरस्त करने का आग्रह किया था. इस बाबत डीएम ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निजी सचिव को पत्र भी भेजा था. COVID-19 गाइडलाइंस और धारा 144 की वजह से कार्यक्रम निरस्त करने को कहा गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज