लाइव टीवी

हरदोई: युवक को जिंदा जलाने पर बिफरीं मायावती, बोलीं- दोषियों को मिले सख्त सजा

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 18, 2019, 11:26 AM IST
हरदोई: युवक को जिंदा जलाने पर बिफरीं मायावती, बोलीं- दोषियों को मिले सख्त सजा
बसपा सुप्रीमो मायावती ने हरदोई में युवक को जिंदा जलाए जाने की घटना की कड़ी निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है. (File Photo)

उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) में अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गए युवक को लड़की के घरवालों ने चारपाई से बांधकर जिंदा जला (Burnt Alive) दिया. युवक की अस्पताल में मौत हो गई. बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने घटना को अति क्रूर बताते हुए इसकी निंदा की है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हरदोई (Hardoi) जिले में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां के कोतवाली शहर क्षेत्र में अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गए युवक को लड़की के घरवालों ने चारपाई से बांधकर जिंदा जला (Burnt Alive) दिया. युवक की अस्पताल में मौत हो गई. उधर इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश की सियासत में उबाल आ गया है. मामले में बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने घटना को अति क्रूर बताते हुए इसकी निंदा की है. साथ ही उन्होंने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है.

मायावती ने ट्वीट किया है, “उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में प्रेम-प्रसंग को लेकर जाति के नाम पर एक दलित युवक को जिन्दा जला देना, यह अति-क्रूर व अति निन्दनीय है. सरकार इसके दोषियों को तुरन्त सख्त सजा दिलाये ताकि प्रदेश में आगे ऐसी कोई पुनरावृति ना हो सके, बीएसपी की यह मांग है.

maya tweet
बसपा सुप्रीमो मायावती का ट्वीट


बता दें मामला कोतवाली शहर इलाके के भदैचा गांव का है, जहां का रहने वाला मोनू राधेश्याम की भतीजी से प्यार करता था. बीते शनिवार रात को मोनू अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था, जहां उसे लड़की के घरवालों ने रंगे हाथों पकड़ लिया. उसके बाद सबने मिलकर मोनू को चारपाई से बांध दिया और उसे जिंदा जला दिया. मोनू की चीख सुनकर गांववालों ने डायल 100 को इसकी सूचना दी. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोनू को प्रेमिका के घरवालों से आजाद कराकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत को गंभीर देखते हुए लखनऊ रेफर कर दिया गया. लेकिन रास्ते में ही मोनू ने दम तोड़ दिया. बेटे की मौत की खबर सुनते ही अस्पताल में भर्ती उसकी बीमार मां की भी सदमे से मौत हो गई.

6 साल पहले भी फरार हुए थे दोनों प्रेमी युगल
फिलहाल पुलिस ने आरोपी पक्ष को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ शुरू कर दी है. पुलिस अधीक्षक (एसपी) आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि गांव का ही मोनू राधेश्याम की भतीजी से प्रेम करता था. लगभग 6 साल पहले प्रेमी जोड़ा घर से फरार हो गया था, लेकिन तब लड़की के घरवाले उन्हें ढूंढकर वापस ले आए थे. शनिवार रात मोनू अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर पहुंच गया. जिसके बाद घरवालों ने उसको रंगे हाथों पकड़ लिया और फिर घर की कोठरी में चारपाई से बांध कर आग के हवाले कर दिया. लगभग 50 प्रतिशत जले मोनू की चीख-पुकार सुनकर इलाके के लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोनू को वहां से छुड़ाया और जिला अस्पताल में भर्ती कराया.

तीन आरोपी गिरफ्तारएसपी आलोक प्रियदर्शी ने कहा कि गांववालों का आरोप है कि मोनू के साथ घटित हुई घटना के बाद उसकी मां की सदमे से मौत हो गई. दावा है कि उसकी मां लंबे वक्त से बीमार चल रही थी. बुखार के चलते देर रात उनकी हालत बिगड़ गई जिसके बाद उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया जहां ले जाते वक्त रास्ते में उसकी मौत हो गई. मोनू की मां की मौत और इस वारदात के बीच समय का आकलन किया जा रहा है. अगर ऐसा कुछ पाया जाता है तो इस मामले में आगे धाराएं भी बढ़ाई जाएंगी. फिलहाल पुलिस तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले में उनसे पूछताछ कर रही है.

ये भी पढ़ें:

प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी को खाट से बांधकर जिंदा जलाया,सदमे से मां की भी मौत
सामने आई सच्चाईः इसके चलते हरदोई में प्रेमी को जिंदा जला दिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2019, 11:25 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर