लाइव टीवी

लखनऊ के केजीएमयू में वाल्मीकि मंदिर तोड़ने पर मायावती ने बीजेपी सरकार को घेरा

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 19, 2019, 12:35 PM IST
लखनऊ के केजीएमयू में वाल्मीकि मंदिर तोड़ने पर मायावती ने बीजेपी सरकार को घेरा
बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ के केजीएमयू परिसर में वाल्मीकि मंदिर तोड़े जाने की घटना को शर्मनाक व अति-निन्दनीय बताया है.

बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) परिसर में वाल्मीकि मंदिर तोड़े जाने को लेकर सरकार पर निशाना साधा है.

  • Share this:
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) परिसर में वाल्मीकि मंदिर तोड़े जाने को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. मायावती ने मामले में दो ट्वीट कर घटना की जांच कराने की मांग की है.  मायावती ने ट्वीट में लिखा है, "दिल्ली में प्राचीन संत रविदास मन्दिर को ध्वस्त कर दिया गया. फिर कर्नाटक में सत्ताधारी बीजेपी के ही दलित सांसद को मन्दिर में जाने से रोका गया और अब लखनऊ किंग जार्ज मेडिकल कालेज परिसर में बाल्मीकी मन्दिर को जबर्दस्ती कल गिरा दिया गया. ये सब शर्मनाक व अति-निन्दनीय. केन्द्र व राज्य सरकारों को चाहिए कि इन सब मामलों को पूरी गंभीरता से लेते हुए इस सम्बंध में त्वरित सख्त कार्रवाई करे, यह बी.एस.पी. की मांग है.”

वाल्मीकि मंदिर टूटने को लेकर लिखाई गई एफआईआर

बता दें किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय की पुरानी डेंटल बिल्डिंग के पीछे स्थित भगवान वाल्मीकि के प्राचीन मंदिर में मंगलवार रात तोड़फोड़ से बवाल हो गया. बुधवार सुबह इसकी जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे वाल्मीकि समाज के सैकड़ों लोगों हंगामा शुरू कर दिया. सूचना पर चौक पुलिस के साथ ही एसीएम और केजीएमयू के अधिकारी भी पहुंच गए. काफी समझाने के बाद जब केजीएमयू प्रॉक्टर ने खुद मंदिर दुरुस्त करवाने का आश्वासन दिया, तब जाकर हंगामा कर रहे लोग शांत हुए. केजीएमयू की ओर से अज्ञात के खिलाफ चौक थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है.

mayawati tweet
बसपा सुप्रीमो मायावती का ट्वीट


मंदिर का निर्माण कार्य शुरू

केजीएमयू के चीफ प्राक्टर ने मंदिर गिराए जाने की किसी पूर्व सूचना से इन्कार करते हुए चौक पुलिस को मामले की जांच करने व प्रकरण में संलिप्त लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के लिए तहरीर दी है. साथ ही मंदिर का निर्माण कार्य शुरू करा दिया है.

विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि करीब हफ्ते भर पहले पुरानी डेंटल बिल्डिंग के पीछे की जमीन को समतल कराया गया था. वहां पार्किंग स्टैंड बनाने की तैयारी की जा रही है. इसी बीच मंगलवार रात किसी ने वहां बने वाल्मीकि मंदिर की एक दीवार तोड़ दी, जिससे मूर्ति भी क्षतिग्रस्त हो गई. सुबह जब लोग पूजा करने पहुंचे तो ये खबर समाज के लोगों में फैल गई. कुछ ही देर में वहां वाल्मीकि समाज के सौ से अधिक लोग एकत्र हो गए और केजीएमयू प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. वह लोग केजीएमयू प्रशासन पर ही मंदिर तुड़वाने का आरोप लगा रहे थे। हंगामे की सूचना पर चौक पुलिस भी मौके पर पहुंच गई.
Loading...

ये भी पढ़ें:

भगवा को भगवा आतंकवाद से जोड़ने वाले तिहाड़ जेल में गिनती गिन रहे: साक्षी महारा

'जनसंख्या में कम होने के बावजूद, मुसलमानों को मिला योजनाओं का ज्यादा लाभ'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 19, 2019, 12:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...