अपना शहर चुनें

States

पहलू खान मॉब लिंचिंग केस: मायावती ने कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

बसपा सुप्रीमो मायावती ने पहलू खान केस में आरोपियों के बरी होने को कांग्रेस सरकार की लापरवाही करार दिया है.
बसपा सुप्रीमो मायावती ने पहलू खान केस में आरोपियों के बरी होने को कांग्रेस सरकार की लापरवाही करार दिया है.

बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने ट्वीट कर इसे राजस्थान की कांग्रेस सरकार की लापरवाही और निष्क्रियता करार दिया है.

  • Share this:
पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में 6 आरोपियों के बरी होने के बाद बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने राजस्थान सरकार पर हमला बोला है. मायावती ने ट्वीट कर इसे राजस्थान (Rajasthan) की कांग्रेस सरकार की लापरवाही और निष्क्रियता करार दिया है.

उन्होंने लिखा है, “राजस्थान कांग्रेस सरकार की घोर लापरवाही व निष्क्रियता के कारण बहुचर्चित पहलू खान माब लिंचिंग मामले में सभी 6 आरोपी वहां की निचली अदालत से बरी हो गए, यह अतिदुर्भाग्यपूर्ण है. पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के मामले में वहां की सरकार अगर सतर्क रहती तो क्या यह संभव था, शायद कभी नहीं.”

mayawati
बसपा सुप्रीमो मायावती का ट्वीट




बता दें राजस्थान के पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए सभी 6 आरोपियों को बरी कर दिया है. अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश सरिता स्वामी इस केस पर फैसला सुनाते हुए सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. अलवर जिले के बहरोड़ में करीब दो साल पहले पहलू खान की एक मॉब लिंचिंग की घटना में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. बता दें कि इस फैसले में तीन नाबालिग आरोपियों को शामिल नहीं किया गया है.
फैसला आने के बाद कोर्ट से बाहर निकले पहलू खान पक्ष के वकील कासिम खान ने कहा कि केस की जांच सही ढंग से नहीं की गई है. पुलिस ने राजनीतिक दबाव में चार्जशीट पेश की थी. अभी कोर्ट का फैसला नहीं मिला है, फैसले का अध्ययन करने के बाद आगे की रणनीति बनाएंगे.

इन 6 आरोपियों को कर दिया गया है बरी
बता दें, पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में कुल 9 आरोपियों के खिलाफ जांच चली. इनमें से बुधवार को कोर्ट 6 आरोपियों का फैसला सुनाया. विपिन यादव, रविन्द्र कुमार, कालूराम, दयानंद, योगेश कुमार उर्फ धोलिया और भीम राठी को लेकर यह फैसला सुनाया गया. बता दें कि पहले एक आरोपी को नाबालिग की श्रेणी में नहीं रखा गया था लेकिन बाद में कुल 3 आरोपियों को नाबालिग मानकर उन्हें इस केस से अलग कर दिया गया.

7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई
इस मामले में कोर्ट में दोनों पक्षों की अंतिम बहस पूरी हो चुकी थी. कोर्ट ने मामले पर फैसले के लिए 14 अगस्त तारीख दे रखी थी. पुलिस ने पहलू खान हत्याकांड में 7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी, जबकि 2 नाबालिग आरोपियों का मामला जुवेनाइल कोर्ट में चल रहा था.

ये भी पढ़ें: 

प्रियंका गांधी बोलीं- पहलू खान पर लोअर कोर्ट का फैसला चौंकाने देने वाला

आज़म खान के हमसफ़र रिसॉर्ट पर चला प्रशासन का बुलडोज़र, ढहाई गई दीवार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज