यूपी विधानसभा उपचुनाव में जीत का मंत्र देने बसपा सुप्रीमो मायावती ने बुलाई अहम बैठक

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2019, 11:29 AM IST
यूपी विधानसभा उपचुनाव में जीत का मंत्र देने बसपा सुप्रीमो मायावती ने बुलाई अहम बैठक
यूपी विधानसभा उपचुनावों को लेकर मायावती ने बसपा पदाधिकारियों की अहम बैठक लखनऊ में बुलाई है.

उत्तर प्रदेश की 13 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अहम बैठक शुरू हो गई है. लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश पदाधिकारियों की ये बैठक बुलाई है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की 13 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अहम बैठक शुरू हो गई है. लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश पदाधिकारियों की ये बैठक बुलाई है. बैठक में सभी जिलों के जिला अध्यक्ष, विधानसभा अध्यक्ष, पूर्व सांसद, विधायक व सभी पदाधिकारी बुलाए गए हैं. जानकारी के अनुसार उप चुनाव की तैयारियों को लेकर मायावती ने पार्टी के सभी छोटे बड़े पदाधिकारियों को बुलाया है. बैठक में उप चुनाव जीतने और पार्टी को मजबूत करने के लिए बसपा सुप्रीमो मंत्र देंगी.

बता दें पिछले हफ्ते ही बहुजन समाज पार्टी ने उपचुनावों को लेकर आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 13 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव अकेले लड़ने का ऐलान किया और 11 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान भी कर दिया है. इस बैठक में एक बार फिर सर्वसम्मति से मायावती को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष भी चुन लिया गया. इस बैठक में उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम पर भी मुहर लगा दी गई है.

इन्हें मिला है टिकट

राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में बसपा सुप्रीमो मायावती ने सभी 13 विधानसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया. यह पहला मौका है जब बसपा उपचुनाव लड़ने जा रही है. बसपा ने 13 में से 11 सीटों के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं. घोसी सीट से कय्यूम अंसारी, मानिकपुर से राजनारायण निराला, हमीरपुर से नौशाद अली, जैदपुर से अखिलेश अंबेडकर, बलहा से रमेश गौतम, टूंडला से सुनील कुमार चित्तौड़, लखनऊ कैंट से अरुण द्विवेदी, प्रतापगढ़ सदर से रंजीत सिंह पटेल, रामपुर से जुबेर मसूद खान और कानपुर से देवी प्रसाद तिवारी. जलालपुर सीट से अभी प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं किया गया है. सहारनपुर सीट पर मायावती को फैसला लेना है. बता दें इन सभी को जिन सीटों पर उपचुनाव होने हैं वहां का प्रभारी बनाया गया है. बसपा में जो प्रभारी होता है उसे ही टिकट मिलता है.

मजबूती से उपचुनाव लड़ने के निर्देश

बैठक में मायावती ने पार्टी पदाधिकारियों को तीन राज्यों में होने वाले चुनाव और उत्तर प्रदेश के उपचुनाव को मजबूती और पूरी ताकत से लड़ने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि पार्टी को सत्ताधारी बीजेपी और कांग्रेस दोनों के खिलाफ इस चुनाव में लड़ना है. बसपा सुप्रीमो ने कहा कि बैलेंस ऑफ़ पावर बनकर आगे बढ़ना है. सत्ता की मास्टर चाभी अपने हाथों में लिए बिना हमारे लोगों का हित और कल्याण संभव नहीं है.

इनपुट: अलाउद्दीन
Loading...

ये भी पढ़ें:

UP उपचुनाव: मायावती ने 11 प्रत्याशियों के नामों का किया ऐलान

बीजेपी MLA ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर की मांग, यूपी में भी लागू हो NRC

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 11:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...