Home /News /uttar-pradesh /

CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएं: मायावती

CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएं: मायावती

मायावती ने सपा को बताया जातिवादी मानसिकता वाली पार्टी (फाइल फोटो)

मायावती ने सपा को बताया जातिवादी मानसिकता वाली पार्टी (फाइल फोटो)

साथ ही मायावती (Mayawati) ने मांग की है कि विरोध-प्रदर्शन के दौरान जिसकी भी जान गई है सरकार उनके परिवार वालों की उचित मदद करे.

    लखनऊ, बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) की मुखिया मायावती (Mayawati) ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं व अन्य प्रदर्शनकारियों (Protesters) के खिलाफ दर्ज गलत मुकदमों को तुरंत वापस लेने की बात बीजेपी सरकार से की है. साथ ही कहा है कि विरोध-प्रदर्शन के दौरान जिसकी भी जान गई है सरकार उनके परिवार वालों की उचित मदद करे.

    मायावती ने सोमवार को ट्वीट कर लिखा, "CAA/NRC आदि के विरोध में संघर्ष करने वाली महिलाओं समेत जिन लोगों के भी खिलाफ यूपी बीजेपी सरकार द्वारा गलत मुकदमे दर्ज किए गए हैं, उन्हें तुरन्त वापस लिया जाए और इस दौरान जिनकी जान गई है तो सरकार उनकी भी उचित मदद करे, यह BSP की मांग है."

    लखनऊ में प्रदर्शन कर रही महिलाओं के खिलाफ दर्ज हुआ है केस

    बता दें लखनऊ के घंटाघर समेत कानपूर, प्रयागराज व मेरठ जिलों में दिल्ली के शाहीन बाग़ की तर्ज पर महिलाओं का विरोध प्रदर्शन जारी है. इस दौरान लखनऊ में प्रदर्शन कर रही 125 महिलाओं के खिलाफ धारा 144 का उल्लंघन, सरकारी कार्य में दखल देने जैसी धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. गौरतलब है कि कांग्रेस, सपा, बसपा समेत तमाम संगठन प्रदर्शनकारी महिलाओं का समर्थन कर रहे हैं.

    प्रियंका गांधी जा सकती है NHRC

    उधर  कांग्रेस की राष्ट्रिय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी सोमवार को दिल्ली के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) में यूपी पुलिस (UP Police) के खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकती हैं. प्रियंका गांधी यूपी में नागरिक संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस की कार्रवाई की शिकायत आयोग से कर सकती हैं. प्रियंका गांधी के साथ यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, नेता प्रतिपक्ष आराधना मिश्रा, राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया और अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी नेता भी मौजूद रहेंगे.

    ये भी पढ़ें:

    गौरव चंदेल मर्डर केस: पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

    हम सब अपने कर्तव्य के प्रति सचेत रहें, कोई टकराव नहीं होगा: सीएम योगी

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: BSP, CAA, Lucknow news, Mayawati

    अगली ख़बर