• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • पेगासस जासूसी कांड: मामला बेहद गंभीर, केंद्र की सफाई गले नहीं उतर रही: मायावती

पेगासस जासूसी कांड: मामला बेहद गंभीर, केंद्र की सफाई गले नहीं उतर रही: मायावती

पेगासस जासूसी कांड: मायावती ने केंद्र सरकार से निष्पक्ष जांच की मांग की.

पेगासस जासूसी कांड: मायावती ने केंद्र सरकार से निष्पक्ष जांच की मांग की.

Lucknow News: बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया है कि जासूसी का गंदा खेल व ब्लैकमेल आदि कोई नई बात नहीं लेकिन काफी महंगे उपकरणों से निजता भंग करके मंत्रियों, विपक्षी नेताओं, अफसरों व पत्रकारों आदि की जासूसी करना अति-गंभीर व खतरनाक मामला है.

  • Share this:
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने पेगासस जासूसी कांड (Pegasus Spyware Scandal) पर केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा किया है. मायावती ने कहा है कि ये अति गंभीर मामला है, जिससे देश भर में खलबली मची है. इस मामले में केंद्र की सफाई लोगों के गले नहीं उतर रही है. लिहाजा इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच जल्द से जल्द कराई जाए.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया है, “जासूसी का गंदा खेल व ब्लैकमेल आदि कोई नई बात नहीं किन्तु काफी महंगे उपकरणों से निजता भंग करके मंत्रियों, विपक्षी नेताओं, अफसरों व पत्रकारों आदि की जासूसी करना अति-गंभीर व खतरनाक मामला जिसका भण्डाफोड़ हो जाने से यहां देश में भी खलबली व सनसनी फैली हुई है.”

उन्होंने आगे लिखा है, “इसके सम्बंध में केन्द्र की बार-बार अनेकों प्रकार की सफाई, खण्डन व तर्क लोगों के गले के नीचे नहीं उतर पा रहे हैं. सरकार व देश की भी भलाई इसी में है कि मामले की गंभीरता को ध्यान में रखकर इसकी पूरी स्वतंत्र व निष्पक्ष जांच यथाशीघ्र कराई जाए ताकि आगे जिम्मेदारी तय की जा सके.”

बसपा सुप्रीमो मायावती का पेगासस जासूसी कांड पर ट्वीट

mayawati tweet
बसपा सुप्रीमो मायावती का ट्वीट


ये है मामला
दरअसल 10 देशों के मीडिया समूह के कई पत्रकारों ने मिलकर खुलासा किया है कि इजराइली कंपनी एनएसओ के स्पाइवेयर पेगासस के जरिए दुनिया भर के नेताओं, मंत्रियों, जजों, पत्रकारों और प्रभावशाली लोगों की जासूसी कराई है. फ्रांस की एक संस्था ने इस बारे में जानकारी जुटाई है कि इजराइली जासूसी नेटवर्क का इस्तेमाल भारत में भी किया गया था. भारत में जासूसी के शिकार हुए लोगों की संख्या करीब 40 हैं. हालांकि जासूसी किसने कराई? इसका खुलासा अभी नहीं किया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज