होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP Corona: अगर योगी सरकार टाल देती पंचायत चुनाव तो इतने ज्यादा कर्मचारियों की नहीं होती मौतः मायावती

UP Corona: अगर योगी सरकार टाल देती पंचायत चुनाव तो इतने ज्यादा कर्मचारियों की नहीं होती मौतः मायावती

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में ड्यूटी के दौरान कर्मचारियों की मौत पर मायावती ने दुख जताया है. (File Photo)

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में ड्यूटी के दौरान कर्मचारियों की मौत पर मायावती ने दुख जताया है. (File Photo)

Mayawati News: बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया है कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते यदि यूपी सरकार पंचायत चुनाव (UP ...अधिक पढ़ें

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव (UP Panchayat Election) के दौरान सैकड़ों शिक्षकों और कर्मचारियों की मौत के मामले के बाद सियासत तेज हो गई है. मामले में समाजवदी पार्टी, कांग्रेस के बाद अब बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने भी योगी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि अगर सरकार पंचायत चुनाव थोड़ा आगे बढ़ा देती तो चुनाव ड्यूटी में लगे कई कर्मचारियों की मृत्यु नही होती. मायावती ने मृतकों के परिजनों को आर्थिक मदद और एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की है.

    बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया है, “कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते यदि यू.पी. सरकार पंचायत चुनाव टाल देती, अर्थात् थोड़ा आगे बढ़ा देती तो यह उचित होता और फिर चुनाव डयूटी में लगे काफी कर्मचारियों की मृत्यु नहीं होती, जो अति-दुःखद. यू.पी. सरकार ऐसे सभी मृतक कर्मचारियों के आश्रित परिवार को उचित आर्थिक मदद करने के साथ ही उनके एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी जरूर दे, बी.एस.पी. की यह मांग .”

    706 शिक्षकों, कर्मचारियों की कोरोना से मौत
    बता दें उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने दावा किया है कि 706 शिक्षकों/कर्मचारियों की कोरोना से मौत हुई है. शिक्षक संघ ने इसे लेकर चुनाव आयोग से मांग की है कि यूपी में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पंचायत चुनाव की मतगणना को स्थगित किया जाए. शिक्षक संघ का दावा है कि कोरोना की वजह से उन जिलों में अधिक शिक्षकों की मौत हुई है, जहां पंचायत चुनाव हो चुका है.

    बसपा प्रमुख मायावती का ट्वीट




    शिक्षक संघ ने योगी और निर्वाचन आयोग को लिखी चिट्ठी
    उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ का कहना है कि मौत के मुंह में समाने वाले अधिकतर शिक्षक पंचायत चुनाव ड्यूटी के बाद संक्रमित हुए. संघ की ओर से सोमवार को कोरोना के शिकार हुए 706 शिक्षकों के नाम का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र भेजा गया है. इस पत्र में लखनऊ मंडल में ही 115 की मौत होने की बात कही गई है.

    प्रियंका गांधी ने किया ये ट्वीट
    मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने ट्वीट किया, “यूपी पंचायत चुनावों की ड्यूटी में लगे लगभग 500 शिक्षकों की मृत्यु की खबर दुखद और डरावनी है. चुनाव ड्यूटी करने वालों की सुरक्षा का प्रबंध लचर था, तो उनको क्यों भेजा? सभी शिक्षकों के परिवारों को 50 लाख रु मुआवाजा व आश्रितों को नौकरी की माँग का मैं पुरजोर समर्थन करती हूं.”

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: BSP, COVID 19, Lucknow News Update, Mayawati, UP Panchayat chunav 2021, Yogi government

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें