Home /News /uttar-pradesh /

BJP के चहेते पूंजीपतियों की स्विस बैंक में बढ़ी संपत्ति : मायावती

BJP के चहेते पूंजीपतियों की स्विस बैंक में बढ़ी संपत्ति : मायावती

मायावती (फाइल फोटो)

मायावती (फाइल फोटो)

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि जातिवादी, जनविरोधी और अहंकारी बीजेपी सरकारों के खिलाफ विपक्षी पार्टियां एकजुट हो रही हैं. इससे बीजेपी के पेट में दर्द होना स्वाभाविक है. जनता समझ रही है.

    बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मंदसौर गैंगरेप की घटना को अति निंदनीय और अति शर्मनाक करार देते हुए सरकार से कहा है कि उसे सख्त कदम उठाने चाहिए. साथ ही मायावती ने मांग की कि बीजेपी को भी अपने उस सांसद व विधायक के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए, जिन्होंने इस घटना को गंभीरता से नहीं लिया. इसकी आड़ में अपनी राजनीति रोटी सेंकने की घिनौनी हरकत की है.
    इसके अलावा बसपा सुप्रीमो ने स्विस बैंक में जमा धन में 50 प्रतिशत बढ़ोत्तरी को लेकर  कालेधन, जीएसटी और बीजेपी के खिलाफ ​विपक्ष के एकजुट होने के मसले पर बीजेपी पर निशाना साधा.

    ये भी पढ़ें: ...तो इस तरह गठबंधन के सहारे 'बढ़' रहा है माया का रुतबा

    मायावती ने कहा कि स्विटजरलैंड के बैकों में दुनिया भर के बड़े-बड़े पूंजीपति अपना धन रखने को अपनी शान समझते हैं. वहां बीजेपी के चहेते भारतीय पूंजीपतियों के धन में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. क्या इसका श्रेय बीजेपी एंड कंपनी और पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार लेना पसंद नहीं करेगी? उन्होंने कहा कि देशहित का मूल प्रश्न यह है कि भारत में कमाया गया धन विदेशी बैंकों में क्यों? केंद्र सरकार की नीयत और उनकी नीति व बड़े-बड़े दावों का क्या हुआ?

    'गैस सिलेंडर पर बीजेपी कर रही संकीर्ण चुनावी राजनीति'

    मायावती ने कहा कि यही कारण है कि बीजेपी की सरकार प्राइवेट सेक्टर को अंधाधुंध बढ़ावा दे रही हैं.
    मायावती ने पूछा कि भारतीय रूपए की कीमत में लगातार गिरावट और अमेरिका में भारतीय पासपोर्ट की अहमियत क्यों कम होती जा रही है.  बसपा सुप्रीमो ने कहा कि सवा सौ करोड़ों के इस देश में दिखावे के लिए गैस सिलेंडर देकर उसके प्रचार में जमीन आसमान एक कर देना संकीर्ण चुनावी राजनीति है. जबकि इससे ज्यादा गैस कनेक्शन हर साल देने की सामान्य प्रक्रिया रही है.

    यह भी पढ़ें: मायावती ने कहा- न्यायपालिका को बार-बार अपमानित कर रही है मोदी सरकार

    वहीं पीएम नरेंद्र मोदी के बयान कि सत्ता के लिए धुर-विरोधी विपक्षी पार्टियां एकजुट हो रही हैं, पर मायावती ने कहा कि जातिवादी, जनविरोधी और अहंकारी बीजेपी सरकारों के खिलाफ विपक्षी पार्टियां एकजुट हो रही हैं. इससे बीजेपी के पेट में दर्द होना स्वाभाविक है. जनता समझ रही है. उनके ही गठबंधन के दल उनसे अलग होते जा रहे हैं.  वहीं जीएसटी लागू हुए एक साल पूरे होने पर मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार को चाहिए कि वह इसकी पूरी ईमानदारी समीक्षा करे और जो भी कमियां सामने आती हैं, उन्हें दूर करे.

    Tags: लखनऊ

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर