'एक राष्ट्र, एक चुनाव' पर बोलीं मायावती- EVM को लेकर बैठक होती तो जरूर आती

बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि ईवीएम के प्रति जनता का विश्वास चिंताजनक स्तर तक घट गया है. ऐसे में इस घातक समस्या पर विचार करने के लिए अगर बैठक बुलाई गई होती तो मैं अवश्य ही उसमें शामिल होती.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2019, 12:20 PM IST
'एक राष्ट्र, एक चुनाव' पर बोलीं मायावती- EVM को लेकर बैठक होती तो जरूर आती
बसपा सुप्रीमो मायावती की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2019, 12:20 PM IST
बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा बुधवार को एक राष्ट्र, एक चुनाव (One Nation, One Election) के मुद्दे पर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक पर निशाना साधा है. मायावती ने इस बैठक में नहीं जाने के फैसले पर कहा कि बैलेट पेपर के बजाए ईवीएम (EVM) के माध्यम से चुनाव की सरकारी जिद से देश के लोकतंत्र व संविधान को असली खतरा है.

उन्होंने कहा कि ईवीएम के प्रति जनता का विश्वास चिन्ताजनक स्तर तक घट गया है. ऐसे में इस घातक समस्या पर विचार करने के लिए अगर आज की बैठक बुलाई गई होती तो मैं अवश्य ही उसमें शामिल होती.

मायावती ने ट्वीट कर लिखा, 'किसी भी लोकतांत्रिक देश में चुनाव कभी कोई समस्या नहीं हो सकती है और न ही चुनाव को कभी धन के व्यय-अपव्यय से तौलना उचित है। देश में ’एक देश, एक चुनाव’ की बात वास्तव में गरीबी, महंगाई, बेरोजबारी, बढ़ती हिंसा जैसी ज्वलन्त राष्ट्रीय समस्याओं से ध्यान बांटने का प्रयास व छलावा मात्र है.'


Loading...

ये नेता भी नहीं हो रहे शामिल

बता दें कि मायावती मंगलवार शाम को दिल्ली से लखनऊ पहुंची थीं. बुधवार को पीएम मोदी की बुलाई इस बैठक में उनके अलावा टीएमसी की ममता बनर्जी, टीडीपी के चंद्रबाबू नायडू, आप के अरविंद केजरीवाल और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव भी शामिल नहीं हो रहे हैं. साथ ही टीआरएस अध्यक्ष और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव भी इस बैठक से दूर रहेंगे.

कांग्रेस बुधवार को लेगी फैसला

कांग्रेस और उसके सहयोगी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ के विषय पर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में अपने रुख को लेकर बुधवार सुबह फैसला करेंगे. कांग्रेस संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी की अध्यक्षता में मंगलवार शाम संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के घटक दलों की बैठक हुई, हालांकि ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ के विषय पर कोई फैसला नहीं हुआ.

बैठक के बाद इस बारे में पूछे जाने पर मंगलवार को सोनिया गांधी ने कहा था, ‘आप को इस पर कल बताया जाएगा.’ सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस और सहयोगी दल बुधवार सुबह संसद भवन में मुलाकात बैठक करेंगे जिसमें ये फैसला होगा कि प्रधानमंत्री की ओर से बुलाई गई बैठक में उनका क्या रुख रहेगा.

ये भी पढ़ें:

UP में सभी प्राइवेट यूनिवर्सिटी के लिए अम्ब्रेला एक्ट, रोकनी होगी राष्ट्रविरोधी गतिविधियां, गरीबों की आधी फीस माफ

'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग अधूरी छोड़ वाराणसी से मुंबई लौटे रणबीर कपूर और आलिया भट्ट, ये रही वजह

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 19, 2019, 11:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...