शिक्षामित्रों के मानदेय पर असर करेगा बजट, क्या होली में फिर होगी आर्थिक तंगी?

सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो)

सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो)

Lucknow News: दो महीने के मानदेय के भुगतान में आई दिक्कत की वजह से शिक्षामित्रों का नया साल आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा था. अब उन्हें इस बात की चिन्ता सता रही है कि कहीं होली (Holi) के समय पैसे की कमी न हो जाए.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने शिक्षा मित्रों को दो महीने के बकाया मानदेय का भुगतान कर दिया है. लेकिन, इसी के साथ ये बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि क्या आगे भी ये लेटलतीफी जारी रहेगी? फिलहाल तो विभागीय अधिकारी इस बात से इनकार कर रहे हैं. सभी एकसुर में यही बता रहे हैं कि सरकार के पास शिक्षा मित्रों  के मानदेय के लिए पैसे की कमी नहीं है. लेकिन शिक्षामित्रों के मन में संकट के बादल अभी से उभरने लगे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि अगले दो महीने के बाद पुराना बजट सत्र खत्म होगा और नया बजट (Budget) जारी होगा. पिछले सालों के अनुभव के आधार पर शिक्षामित्रों ने बताया कि नए बजट सत्र की शुरुआत के समय मानदेय को लेकर समस्या खड़ी हो जाती रही है.

दो महीने के मानदेय के भुगतान में आई दिक्कत की वजह से शिक्षामित्रों का नया साल आर्थिक तंगी में ही आया था. अब उन्हें इस बात की चिन्ता सता रही है कि कहीं होली के समय पैसे की कमी न हो जाए. अगर जनवरी, फरवरी का मानदेय रुका तो होली के समय फिर से आर्थिक संकट गहरा जाएगा. शिक्षामित्रों के संगठन यूपी बीटीसी शिक्षामित्र संघ के अध्यक्ष अनिल यादव ने न्यूज 18 से बातचीत में कहा कि इस बात की आशंका तो पूरी है क्योंकि बजट सत्र के समापन और आगमन के समय पिछले सालों में ऐसी समस्या आती रही है. ऐसे में विभागीय अफसरों को अभी से सचेत रहने की जरूरत है जिससे शिक्षामित्रों के आंगन में भी होली का जश्न जोश से मनाया जा सके.

ये भी पढ़ें: Bastar News: सीआरपीएफ जवान ने साथियों पर दागी गोली, एक की मौत, दो की हालत नाजुक

Youtube Video

विभाग का दावा



इस मसले पर नाम न जाहिर करने की शर्त पर विभाग के एक बड़े अफसर ने कहा कि उनकी तरफ से पूरी कोशिश की जाएगी जिससे होली से पहले शिक्षा मित्रों का किसी भी महीने का मानदेय बकाया न रहे.

बता दें कि नया बजट पास होने के बाद उसके जारी होने में कभी-कभी देरी हो जाने के कारण भुगतान की समस्या खड़ी होती रही है. शिक्षामित्रों के नवंबर और दिसंबर का मानदेय बकाया था जिसे सरकार ने 29 जनवरी को जारी किया है यानी दो महीने की देरी से. अब उम्मीद की जानी चाहिए कि होली से पहले ऐसी समस्या न खड़ी हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज