CAA बवाल: AMU के हॉस्टल खाली करा रही है UP पुलिस, 5 जनवरी तक यूनिवर्सिटी बंद

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई. (फाइल फोटो)
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई. (फाइल फोटो)

डीजीपी ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने बताया कि यूनिवर्सिटी प्रशासन ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए हॉस्टल खाली कराने में हमसे मदद मांगी है. कैंपस में कोई हिंसात्मक कार्रवाई होती है तो सख्त कानूनी कार्रवाई होगी.

  • Share this:
लखनऊ. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर रविवार देर रात अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) में छात्रों के उग्र प्रदर्शन और हिंसक झड़पों के बाद यूपी पुलिस (UP Police) ने हॉस्टल खाली कराने शुरू कर दिए हैं. मामले में डीजीपी ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने कहा कि एमएमयू के हॉस्टल खाली कराने के आदेश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि कल (रविवार) अफवाहों के आधार पर एएमयू के छात्र इकट्ठा हो गए थे. उनको बाहर जाने को कहा गया तो उन्होंने पथराव किया. पथराव में डीआईजी अलीगढ़, रैपिड एक्शन फोर्स के कमांडेंट को चोट लगी. उन्होंने बताया कि इस दौरान पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़कर उन्हें कंट्रोल किया. फिलहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है. यूनिवर्सिटी को 5 जनवरी तक के लिए बंद कर दिया गया है. हम यूनिवर्सिटी की मदद के लिए तैयार हैं.

यूनिवर्सिटी ने मांगी मदद
डीजीपी ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने बताया कि यूनिवर्सिटी ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए हॉस्टल खाली कराने में हमसे मदद मांगी है. कैंपस में कोई हिंसात्मक कार्रवाई होती है तो सख्त कानूनी कार्रवाई होगी. कल दिनभर हम एएमयू पर नजर रखे हुए थे. अचानक जामिया कैंपस की अफवाह को लेकर छात्र बाहर आ गए. पुलिस ने आंदोलनकारी छात्रों को नियंत्रित किया. अफवाहों पर नियंत्रण के लिए अलीगढ़, मेरठ और सहारनपुर में अस्थायी तौर पर इंटरनेट पर पाबंदी लगाई गई है. जरूरत होगी तो कुछ और शहरों में इंटरनेट पर पाबंदी लगाई जाएगी.

अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान न दें छात्र: डीजीपी
डीजीपी ने कहा, 'धारा 144 पर डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन फैसला लेगा. यदि यूनिवर्सिटी प्रशासन चाहेगा तो पुलिस हॉस्टल को खाली कराएगी. यूनिवर्सिटी प्रशासन को हॉस्टल खाली कराना चाहिए. हॉस्टल में छात्रों से साथ असामाजिक तत्व भी हो सकते हैं. सभी से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील करता हूं. अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान न दें. कोई भी जानकारी मिलती है तो लोग सीधे पुलिस को सूचना दें. हम अलर्ट पर हैं कानून व्यवस्था की स्थिति किसी भी सूरत पर खराब न हो.'



(रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी)

ये भी पढ़ें: 

AMU में बवाल: 500 छात्रों के खिलाफ केस दर्ज, दो दर्जन हिरासत में
CAA के खिलाफ विरोध प्रदर्शन: CM योगी ने प्रदेशवासियों से की ये अपील
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज