Home /News /uttar-pradesh /

मायावती के 'मुस्लिम वोट' बयान पर बोले राजनाथ सिंह- स्वस्थ लोकतंत्र में यह स्वीकार नहीं

मायावती के 'मुस्लिम वोट' बयान पर बोले राजनाथ सिंह- स्वस्थ लोकतंत्र में यह स्वीकार नहीं

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, राजनीति हिंदू-मुस्लिम के आधार पर नहीं होनी चाहिए. राजनीति जाति या धर्म के आधार पर नहीं की जानी चाहिए. इसे एक स्वस्थ लोकतंत्र में स्वीकार नहीं किया जा सकता है.

    गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मायावती के 'मुस्लिम वोट का बंटवारा' के बयान पर कहा है कि स्वस्थ लोकतंत्र में यह स्वीकार नहीं है. दरअसल सहारनपुर के देवबंद में सपा-बसपा और आरएलडी की गठबंधन रैली को संबोधित करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि मैं मुस्लिम समाज को कहना चाहती हूं कि अगर बीजेपी को हराना है तो भावनाओं में बहकर वोट को बांटना नहीं है.

    इस पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, राजनीति हिंदू-मुस्लिम के आधार पर नहीं होनी चाहिए. राजनीति जाति या धर्म के आधार पर नहीं की जानी चाहिए. इसे एक स्वस्थ लोकतंत्र में स्वीकार नहीं किया जा सकता है.



    मायावती ने सहारनपुर लोकसभा सीट का उदाहरण देते हुए कहा कि यहां के मुसलमानों को मालूम है कि बसपा ने बहुत पहले अपने मुस्लिम कैंडिडेट का टिकट फाइनल कर दिया था. कांग्रेस को पता है कि सहारनपुर में उसे कोई और वोट मिलने वाला नहीं है. इसलिए मैं कहना चाहती हूं कि मुस्लिम समाज को अपना वोट बांटना नहीं है, बल्कि गठबंधन उम्मीदवार को वोट देकर कामयाब बनाना है.

    ये भी पढ़ें -

     इमरान मसूद का मायावती पर हमला, बोले- पहली बार किसी दलित नेता से डरीं बसपा सुप्रीमो

    प्रियंका गांधी ने नवरेह की जगह दी ‘नवरोज’ की शुभकामनाएं, Twitter पर हुईं ट्रोल

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Lok Sabha Election 2019, Mayawati, Rajnath Singh, Saharanpur news, Saharanpur S24p01, Up news in hindi, Uttarpradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर