शाहबेरी बिल्डिंग हादसे से जुड़े आरोपियों के खिलाफ NSA के तहत होनी चाहिए कार्रवाई: CM योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जमीन से जुड़े मामलों में शामिल अधिकारियों की एक सूची तैयार की जानी चाहिए .

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 25, 2019, 11:31 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 25, 2019, 11:31 AM IST
पिछले साल ग्रेटर नोएडा स्थित शाहबेरी में हुए बिल्डिंग हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक्शन लिया है. सीएम योगी ने बुधवार को लखनऊ में एक बैठ के दौरान कहा कि अवैध निर्माण के लिए जिम्मेदार अधिकारियों और बिल्डरों के लिए जवाबदेही तय की जानी चाहिए. योगी ने कहा कि हजारों निवासियों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने वालों को जेल भेजा जाना चाहिए और एफआईआर दर्ज की जानी चाहिए. इसके अलावा योगी ने कहा कि शाहबेरी मामले में जुड़े दोषियों के ऊपर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत मामला दर्ज किया जाना चाहिए.

अधिकारियों की एक सूची तैयार की जानी चाहिए
मुख्यमंत्री ने कहा कि जमीन से जुड़े मामलों में शामिल अधिकारियों की एक सूची तैयार की जानी चाहिए ताकि उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सके. उन्होंने कहा कि इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि अदालत से स्टे के बाद भी निर्माण कैसे हुआ और इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जानी चाहिए.

असुरक्षित निर्माण का फोरेंसिक ऑडिट होना चाहिए

आदित्यनाथ ने कहा कि साल 2014 के बाद किए गए निर्माण के लिए जिम्मेदार सभी अधिकारियों की लिस्ट तैयार की जानी चाहिए. उन्होंने आगे निर्देश दिया कि असुरक्षित निर्माण का फोरेंसिक ऑडिट होना चाहिए और इन्हें तत्काल ध्वस्त कर दिया जाना चाहिए. इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अदालत में मामलों को सर्वोत्तम कानूनी संसाधनों और सर्वोत्तम संभव तरीके से आगे बढ़ाने का निर्देश भी दिया.

क्या है पूरा मामला
बता दें कि पिछले साल 18 जुलाई को ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में बिल्डिंग गिरने से 9 लोगों की मौत हो गई थी. तब पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार करने के साथ 24 लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था. इस मामले में डीएम बीएन सिंह ने कहा था कि इन दोनों मकानों को बनाने में शामिल सभी बिल्डर, कॉन्ट्रैक्टर और घर बेचने वाले ब्रोकर के खिलाफ गिरफ्तारी के साथ-साथ उन पर एनएसए (नेशनल सिक्योरिटी एक्ट) के तहत भी कार्रवाई होगी.
Loading...

ये भी पढ़ें- 

केंद्र सरकार ने अब उदित राज सहित इन दिग्गजों की हटाई सुरक्षा

सरकारी ऑफिस में ये काम किया तो भरना पड़ेगा इतना जुर्माना
First published: July 25, 2019, 12:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...