छत्तीसगढ़ में योगी आदित्यनाथ का आशीर्वाद डॉ रमन सिंह के तो आया काम, मगर...
Rajnandgaon News in Hindi

छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए 23 अक्टूबर को डॉ. रमन सिंह ने राजनांदगांव सीट से अपना नामांकन दाखिल किया. नामांकन दाखिल करने के लिए निकलने से पहले सीएम डॉ. रमन सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2018, 3:08 PM IST
  • Share this:
छत्तीसगढ़ के चुनाव प्रचारों में बीजेपी की तरफ से यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ स्टार प्रचारक की भूमिका में थे. चुनाव के दौरान योगी आदित्यनाथ की मांग का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 90 सीटों के विधानसभा चुनाव में योगी ने 23 चुनावी जनसभाएं कीं और ज्यादा से ज्यादा सीटों को कवर किया. यही नहीं डॉ. रमन सिंह ने नॉमिनेशन दाखिल करने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पैर छूकर आशीर्वाद लिया. यही नहीं छत्तसीगढ़ में वोटिंग के बाद डॉ रमन सिंह ने गोरखपुर का दौरा भी किया. यहां उन्होंने गोरखनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की.

रमन सिंह ने योगी आदित्यनाथ के पैर छूकर लिया आशीर्वाद, फिर भरा नामांकन

जब नतीजे सामने आए तो सीएम रमन सिंह अपनी सीट राजनांदगांव जीत गए लेकिन पूरे प्रदेश में बीजेपी के दूसरे दिग्गज नेता बड़ी संख्या में हार गए और यहां कांग्रेस ने भारी बहुमत के साथ जीत दर्ज की. रमन कैबिनेट में 12 से 8 मंत्री चुनाव हार गए. भाजपा के सिटिंग एमएलए में से भी ज्यादातर को हार का सामना करना पड़ा.



बता दें 23 अक्टूबर को डॉ. रमन सिंह ने राजनांदगांव सीट से अपना नामांकन दाखिल किया. नामांकन दाखिल करने के लिए निकलने से पहले सीएम डॉ. रमन सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.



यूपी में कांग्रेस को मिली अकेले मैदान में उतरने की संजीवनी, जीत सकती है ये सीटें

योगी आदित्यनाथ सीएम डॉ. रमन सिंह सहित राजनांदगांव जिले की सभी सीटों के बीजेपी प्रत्याशियों के नामांकन दाखिल करते समय मौजूद रहे. वहीं सीएम डॉ. रमन सिंह के नामांकन के दौरान उनकी पत्नी वीणा सिंह, बेट व राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के सांसद अभिषेक सिंह सहित पार्टी के आला नेता शामिल रहे. र​मन सिंह के अलावा कोमल जंघेल, मधुसूदन यादव, कंचनमाला, हीरेंद्र साहू, सरोजनी बंजारे ने भी अपना नामांकन दाखिल किया.

 



जानकारी के अनुसार योगी ने छत्तीसगढ़ की 23, राजस्थान की 26 और मध्यप्रदेश की 17 सीटों पर प्रचार किया था. इससे पहले पार्टी उनका इस्तेमाल कर्नाटक, त्रिपुरा और गुजरात चुनाव में कर चुकी है. शायद ही कोई मुख्यमंत्री होगा जिसका पार्टी ने दूसरे राज्यों में योगी जितना इस्तेमाल किया हो. स्टार प्रचारक के तौर पर राजस्थान में उन्होंने हनुमान जी को आदिवासी और दलित बताया. इस बयान की सबसे ज्यादा चर्चा हुई. इसके बाद कई जगह दलितों ने हनुमान जी के मंदिरों में कब्जा करने की कोशिश की.

ये भी पढ़ें: 

तो क्या अब यूपी में सपा और बसपा की मजबूरी है कांग्रेस?

...तो सवर्णों के NOTA ने रोका मोदी-शाह का विजय रथ, यूपी तक होगा असर

जानिए राज्यों के चुनाव में कांग्रेस की जीत का यूपी की सियासत पर क्या होगा असर?  

अखिलेश यादव का इंटरव्यू: गठबंधन में हो सकती है कांग्रेस की भूमिका

शिवपाल की जनाक्रोश रैली में मुलायम ने कुछ इस तरह लगा दिया 'चरखा दांव'

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading