लाइव टीवी

चिन्मयानंद मामला: लॉ स्टूडेंट ने SC में लखनऊ से केस ट्रांसफर की लगाई अर्जी, जान का खतरा जताया
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 28, 2020, 12:01 PM IST
चिन्मयानंद मामला: लॉ स्टूडेंट ने SC में लखनऊ से केस ट्रांसफर की लगाई अर्जी, जान का खतरा जताया
सुप्रीम कोर्ट ने चिन्मयानंद मामले में रेप पीड़िता की याचिका पर दो मार्च को सुनवाई की तारीख मुकर्रर की है (फाइल फोटो)

जानकारी के अनुसार रेप पीड़िता (Rape Victim) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में अर्जी दाखिल कर कहा है कि उसके केस को लखनऊ (Lucknow) से ट्रांसफर किया जाए. उसने कहा है कि केस का ट्रायल लखनऊ से कहीं बाहर (दिल्ली) किया जाए. यहां उसकी जान को खतरा है

  • Share this:
दिल्ली/लखनऊ. पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद (Chinmayanand) पर रेप का आरोप लगाने वाली लॉ स्टूडेंट ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में अर्जी दाखिल कर केस को लखनऊ से ट्रांसफर (Case Transfer) करने की अपील की है. साथ ही पीड़िता ने अपनी जान को भी खतरा बताया है. मामले में सुप्रीम कोर्ट अब सोमवार दो मार्च को सुनवाई करेगा. कोर्ट ने तब तक पीड़िता को सुरक्षा देने की बात कही है.

जानकारी के अनुसार रेप पीड़िता ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर कहा है कि उसके केस को लखनऊ से ट्रांसफर किया जाए. उसने कहा है कि केस का ट्रायल लखनऊ से कहीं बाहर (दिल्ली) किया जाए. यहां उसकी जान को खतरा है. पीड़िता की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने इसे सुनवाई के लिए मंजूर कर लिया है. सुप्रीम कोर्ट मामले में अब दो मार्च को सुनवाई करेगा. साथ ही कोर्ट ने तब तक छात्रा को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश जारी किया है.



चिन्मयानंद पर क्या लगे आरोप?
बता दें कि शाहजहांपुर के एसएस लॉ कॉलेज में पढ़ने वाली एलएलएम की एक छात्रा ने चिन्मयानंद के ऊपर किडनैपिंग और शारीरिक शोषण का आरोप लगाया था. पीड़ित लड़की ने फेसबुक पर वीडियो बनाकर डाला था जिसमें उसने चिन्मयानंद के पर कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने का आरोप लगाया था. उसके बाद पीड़िता रहस्यमय तरीके से गायब हो गई थी. जिसके बाद उसके पिता ने इस संबंध में चिन्मयानंद के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी.

कौन है चिन्मयानंद?
73 वर्षीय चिन्मयानंद का जन्म यूपी के गोंडा जिले में हुआ था. उनका ताल्लुक अवध के राजघराने से है. चिन्मयानंद ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से एमए किया है. वो अविवाहित हैं. वर्ष 1991 में चिन्मयानंद सबसे पहली बार बीजेपी के टिकट पर बदायूं संसदीय क्षेत्र से जीत हासिल कर संसद पहुंचे थे. वर्ष 1998 में उन्होंने मछलीशहर से जीत हासिल की. इसके बाद 1999 के चुनाव में इन्होंने जौनपुर सीट से जीत हासिल की. वाजपेयी सरकार में ये गृह राज्य मंत्री बनाए गए थे.

(इनपुट: एहतेशाम)

ये भी पढ़ें:

20 साल तक लिवइन रिलेशनशिप में रहने वाली हसीरुन निशा बनीं मालती, की लव मैरिज

आजम खान के सीतापुर जेल ट्रांसफर पर आज कोर्ट में जवाब देंगे रामपुर जेल अधीक्षक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 11:16 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर