अपना शहर चुनें

States

CAA Protest: UP में ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां, Twitter, FB, यूट्यूब पर 5000 आपत्तिजनक पोस्ट के खिलाफ एक्‍शन

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है.
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है.

लखनऊ में 112 लोगों को हिरासत में लिया गया है. वहीं सोशल मीडिया (Social Media) पर भी यूपी पुलिस बड़ा अभियान चला रही है. सोशल मीडिया पर की गई आपत्तिजनक पोस्टों के बाद 13 मामले दर्ज कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध में गुरुवार को लखनऊ (Lucknow) और संभल (Sambhal) में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस (UP Police) एक्शन में आ गई है. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के सख्त निर्देशों के बाद पुलिस की कई टीमें ताबड़तोड़ गिरफ्तारियों में जुट गई हैं. इसी क्रम में लखनऊ में 112 लोगों को हिरासत में लिया गया है. वहीं सोशल मीडिया (Social Media) पर भी यूपी पुलिस बड़ा अभियान चला रही है. जानकारी के अनुसार सोशल मीडिया पोस्ट किए गए आपत्तिजनक, भ्रामक संदेशों के संबंध में प्रदेश में कुल 13 मामले दर्ज कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इसके अलावा 1786 ट्विटर, 3037 फेसबुक व 38 यूट्यूब पोस्ट को रिपोर्ट किया गया है और अब उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है.

पुलिस के अनुसार CAA के विरोध में प्रदेश व्यापी विभिन्न जनपदों में धरना-प्रदर्शन किया गया. इसमें सम्भल और लखनऊ को छोड़कर प्रदेश के अन्य जनपदों में धरना-प्रदर्शन शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ. कुछ जनपदों में छुट-पुट विरोध-प्रदर्शन किया गया, जिसे वहां पुलिस बल द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए नियंत्रित कर लिया गया.

यूपी में कुल 102 स्थानों पर हुए विराेध प्रदर्शन
पुलिस के अनुसार पूरे प्रदेश में कुल 102 स्थानों पर प्रदर्शन किए गए. उन स्थानों पर जहां पर हिंसा होने की संभावना थी, वहां पुलिस बल ने 3305 लोगों को हिरासत में लिया. इसके अलावा अपराधिक पृष्ठभूमि वाले लोगों को घर से बाहर न निकलने की हिदायत दी गई.
इन जिलों में हुआ विरोध प्रदर्शन


सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलन्दशहर, बागपत, हापुड़, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बदायू, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, अलीगढ़, हाथरस, कासगंज, एटा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, मथुरा, ललितपुर, झांसी, जालौन, फतेहगढ़, कन्नौज, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, हमीरपुर, महोबा, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, कौशाम्बी, प्रयागराज, प्रतापगढ़, खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, बाराबंकी, अयोध्या, अम्बेडकरनगर, सुल्तानपुर, अमेठी, बहराइच, गोण्डा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीरनगर, महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, आजमगढ़, मऊ, बलिया, गाजीपुर, चन्दौली, वाराणसी, जौनपुर, संतरबिदासनगर, मिर्जापुर, सोनभद्र.

करीब 2000 लोगों ने ज्ञापन देने के बाद फूंकी बस
पुलिस के अनुसार संभल में जिला संघर्ष समिति के अध्यक्ष डॉ नाजिम के आह्वान पर थाना कोतवाली क्षेत्र में चौधरी सराय में 1500 से 2000 समर्थक कार्यकर्ताओं द्वारा ज्ञापन देने के पश्चात वापस लौटते समय 1 बस में आगजनी की गई. 2 बसों पर पथराव किया गया. जिससे बस के शीशे टूटने से 4 व्यक्ति मामूली रूप से घायल हुए हैं. इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक कार्रवाई कर रहे हैं.

लखनऊ और संभल की हिंसा में कुल 18 पुलिसकर्मी घायल
लखनऊ में थाना हजरतगंज, ठाकुरगंज, हसनगंज एवं वजीरगंज में कुछ स्थानों पर भीड़ ने जमकर बवाल मचाया. इस दौरान विभिन्न सरकारी और निजी सम्पत्तियों पर आगजनी एवं तोड़फोड़ की गई. थाना हजरतगंज क्षेत्र में मीडिया कर्मियों की ओबी वैन, थाना ठाकुरगंज क्षेत्र में चौकी सतखण्डा एवं हसनगंज क्षेत्र स्थित चैकी मदेयगंज के बाहर वाहनों में उग्र भीड़ द्वारा आगजनी व तोड़फोड़ की गई. लखनऊ में उपद्रव के दौरान लगभग 1 दर्जन वाहनों को आगजनी व क्षतिग्रस्त किया गया. लखनऊ में 16 पुलिसकर्मी व जनपद सम्भल में 2 पुलिसकर्मी उक्त प्रकरणों में घायल हुए हैं.

लखनऊ में 112 लोग हिरासत में
लखनऊ की घटनाओं में अब तक 112 व्यक्तियों को हिरासत में लेकर विधिक कार्यवाही की जा रही है. पुलिस के अनुसार लखनऊ एवं संभल में हुई घटना में सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों के क्रम में सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्ति को हुई क्षति के दृष्टिगत दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत कर क्षतिपूर्ति के निस्तारण हेतु वसूली की विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें: लखनऊ में हिंसक प्रदर्शन पर सीएम योगी बोले- जब्त होगी उपद्रवियों की संपत्ति

CAA बवाल: लखनऊ में प्रदर्शन के दौरान चली गोली, 1 की मौत 2 गम्भीर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज