CM योगी के '3T' फॉर्मूले का चमत्कार, 24 घंटे में मिले सिर्फ 1430 पॉजिटिव, 3.24 लाख टेस्ट हुए

यूपी में CM योगी के '3T' फॉर्मूले का चमत्कार (File photo)

यूपी में CM योगी के '3T' फॉर्मूले का चमत्कार (File photo)

Successful UP Model : गौरतलब है कि जहां अन्य राज्यों ने पूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) लगाया था, पर यूपी ने आंशिक करोना कर्फ्यू लगाकर बेहतरीन यूपी मॉडल पेश किया. इस दौरान आर्थिक गतिविधियां चलती रहीं और कोरोना घटता रहा.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी के 3T यानी ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति से प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम में बड़ी सफलता मिल रही है. पॉजिटिविटी दर में लगातार कमी तथा रिकवरी दर में निरंतर वृद्धि से राज्य में कोविड संक्रमण के मामलों में तेजी से आशानुकूल कमी आयी है. यही वजह है कि मंगलवार को 3.24 लाख टेस्ट के बावजूद पिछले 24 घंटे में सिर्फ 1430 पॉजिटिव केस मिले. अब रिकवरी रेट भी 96.9 प्रतिशत हो गई है. अब तक कुल 4.97 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं.

दरअसल, 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 1,497 मामले सामने आए हैं. इसी अवधि में 5,491 संक्रमित व्यक्तियों का सफल उपचार करके डिस्चार्ज किया गया है. प्रदेश में 30 अप्रैल, 2021 को संक्रमण के अब तक के सर्वाधिक एक्टिव मामले 3,10,783 थे. वर्तमान में संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या घटकर मात्र 37,044 रह गई है. इस प्रकार विगत 30 अप्रैल की तुलना में अब एक्टिव मामलों ( )में 88.1 प्रतिशत की कमी आ गई है. सीएम योगी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से सम्बन्धित डाटा पोर्टल पर प्रतिदिन अपलोड किया जाना चाहिए. इस कार्य में शिथिलता ना बढ़ती जाए. शिथिलता बरतने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए.

24 घंटे में 465 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति

वहीं 24 घंटे में राज्य में 465 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई है. अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों तथा रीफिलर्स के पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन बैकअप उपलब्ध है. होम आइसोलेशन के मरीजों में ऑक्सीजन की डिमाण्ड में कमी आयी है. सीएम ने निर्देश दिए कि राज्य में ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना की कार्यवाही को त्वरित गति से आगे बढ़ाने के लिए जनपद तथा शासन स्तर पर नियमित समीक्षा की जाए.
काम होते रहे, साथ ही कम हो रहे कोरोना के मामले

गौरतलब है कि जहां अन्य राज्यों ने पूर्ण लॉकडाउन लगाया था, पर यूपी ने आंशिक करोना कर्फ्यू लगाकर बेहतरीन यूपी मॉडल पेश किया. इस दौरान आर्थिक गतिविधियां चलती रहीं और कोरोना घटता रहा. आंशिक कर्फ्यू के दौरान भी गेहूं खरीद हुई, चीनी मिलें चलती रहीं और व्यापारिक कार्य होते रहे. अब जब मामले लगातार काम हो रहे हैं, ऐसे में सरकार ने 1 जून से उन 55 जिलों में कोरोना कर्फ्यू से ढील दी है जहां एक्टिव केसों की संख्या 600 से कम है. उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में अन्य 20 जिलों में भी ढील दी जा सकती है, जहां सक्रिय मामलों की संख्या 600 से ज्यादा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज