लाइव टीवी

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले CM योगी ने मंत्रियों को दी ये नसीहत...

News18Hindi
Updated: November 2, 2019, 8:05 AM IST
अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले CM योगी ने मंत्रियों को दी ये नसीहत...
अयोध्या फैसले से पहले CM योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों को दी नसीहत (file photo)

मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रियों को बैठक में खास तौर से ये निर्देश दिया कि अयोध्या मामले के संभावित फैसले से पहले से वो अपने प्रभार वाले जिलों में जाएं और वहां सुरक्षा को लेकर बैठक करें. साथ ही सीएम योगी ने उनसे इस विषय पर किसी भी तरह की बयानबाजी से बचने की भी सलाह दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2019, 8:05 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. अयोध्या (Ayodhya) में राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद (Ayodhya Land Dispute) को लेकर पूरे देश की निगाहें सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पर टिकी हैं. मामले में संविधान पीठ के समक्ष (सामने) सुनवाई पूरी हो चुकी है और अब सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है. उधर फैसले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शुक्रवार शाम मंत्रिमंडल की बैठक की. इस दौरान सीएम योगी ने मंत्रियों को गलत बयानबाजी और फैसले पर किसी भी तरह की कोई टिप्पणी करने से बचने की नसीहत दी.

मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रियों को बैठक में खास तौर से ये निर्देश दिया कि अयोध्या मामले के संभावित फैसले से पहले से वो अपने प्रभार वाले जिलों में जाएं और वहां सुरक्षा को लेकर बैठक करें. साथ ही सीएम योगी ने उनसे इस विषय पर किसी भी तरह की बयानबाजी से बचने की भी सलाह दी.

DM और SSP ने फैसले के संबंध में की अपील
वहीं जिलाधिकारी (डीएम), वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) और जनपद के सभी अधीनस्थ अधिकारी एक रणनीति के तहत इस मुद्दे पर आने वाले फैसले के बाद शहर की गंगा-जमुनी तहजीब को बनाए रखने के प्रयास में जुटे हैं. फैसले के साथ ही शांति-व्यवस्था को बनाए रखने की चुनौती को सफलतापूर्वक अंजाम देने के लिए डीएम सर्वज्ञ राम मिश्र और एसएसपी शलभ माथुर ने हिंदू-मुस्लिम पक्ष के प्रबुद्धजनों, साधु-संतों के साथ बैठक कर शांति सौहार्द बनाए रखने की अपील करते हुए न्यायालय के निर्णय का सम्मान करने और अपने अनुयायियों से भी इसे अनुसरण करने का निर्देश दिए जाने की गुजारिश की.

jammu kashmir, article 370
अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में लगातार 40 दिन तक बहस और सुनवाई चली है. चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई ने कहा है कि वो इस महीने रिटायर होने से पहले इस केस में अपना फैसला सुनाएंगे


सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वालों की खैर नहीं
इसके अलावा डीएम-एसएसपी ने कहा कि निर्णय के बाद सोशल मीडिया पर भड़काऊ और आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले पैनी नजर रखने के लिए 5500 से अधिक लोगों को लगाया गया है. डीएम ने कहा कि कानून को हाथ में लेने, उन्माद फैलाने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा. पीस कमेटी के लोगों के अलावा कुछ पॉइंट्स अलग से चिह्नित किए हैं. जहां अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे.
Loading...

रशीद फिरंगी महली ने की अपील
इससे पहले शुक्रवार को ही मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने कहा कि अयोध्या मसले के फैसले से पहले जुमे की नमाज में मस्जिदों में आपसी भाईचारा बनाए रखने की अपील की जाएगी. उन्होंने कहा कि मौलाना अपील करेंगे कि कोर्ट से चाहे जो भी फैसला आए समाज में अमन-चैन बनी रहे. उन्होंने कहा कि किसी भी शख्स को घबराने की जरूरत नहीं है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सबको भरोसा होना चाहिए. किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की कोई बात न करे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2019, 6:36 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...