अखिलेश यादव के प्रयागराज जाने से हो सकती थी हिंसा: सीएम योगी

एक अन्य ट्वीट में अखिलेश ने आरोप लगाया कि 'बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया. पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 12, 2019, 3:25 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 12, 2019, 3:25 PM IST
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ के कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मंगलवार को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोक दिया गया. इसपर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने जवाब दिया कि अखिलेश के जाने से कानून व्यवस्था बिगड़ने का खतरा था. उन्होंने कहा कि सपा को अपनी अराजक गतिविधियों से बचना चाहिए. इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने अनुरोध किया कि छात्र संगठनों के बीच विवाद के कारण अखिलेश यादव की यात्रा कानून और व्यवस्था की समस्या पैदा कर सकती है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अखिलेश को अराजकता से बाज आना चाहिए. उन्हें प्रशासन के अनुरोध पर रोका गया है. अगर वह वहां जाते तो हिंसक झड़प हो सकती थी. इसलिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अनुरोध पर प्रशासन ने ये फैसला लिया है.





एक अन्य ट्वीट में अखिलेश ने आरोप लगाया कि 'बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया. पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे. छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है.
Loading...




यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर इलाहाबाद विश्वविद्यालय जाने से रोकने पर विधान परिषद में जमकर हंगामा हुआ. सपा सदस्यों ने वेल में आकर हंगामा करते हुए प्रदेश की योगी सरकार पर तानाशाही के आरोप लगाया.

इलाहाबाद डीएम ने संबंधित कार्यक्रम में अखिलेश यादव की भागीदारी पर रोक लगाई थी. उनकी मौजूदगी से शांतिभंग होने की आशंका जताई गई थी. डीएम ने गृह विभाग को यह संस्तुति की थी. वे चार्टर प्लेन से इलाहाबाद जा रहे थे. ऐसे में डीएम की संस्तुति के आधार पर गृह विभाग द्वारा दिए गए निर्देशों को पालन करने के क्रम में प्रशासन ने अखिलेश यादव को इलाहाबाद जाने से रोका है. विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस संबंध में पत्र लिखकर अखिलेश यादव के सचिव गंगाराम को सूचित किया था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर