यूपी विधानसभा में विस्‍फोटक मिलने की जांच करेगी एनआईए

File photo: PTI

File photo: PTI

विधानसभा की सुरक्षा में हुई चुक को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में कहा कि यहां केवल सदस्य, मार्शल और कर्मियों को ही आने की इजाजत है. इनके अवाला तीसरा कोई भी नहीं आ सकता. फिर वह कौन है जिसने ऐसी शरारत की है.

  • Share this:
विधानसभा की सुरक्षा में हुई चुक को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में कहा कि यहां केवल सदस्य, मार्शल और कर्मियों को ही आने की इजाजत है. इनके अलावा तीसरा कोई भी नहीं आ सकता. फिर वह कौन है जिसने ऐसी शरारत की है.



सदन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि क्या किसी को विशेषाधिकार मिला है जो इसका दुरुपयोग कर रहा है. यह पूरे सदस्यों और यहां काम करने वाले कर्मियों की सुरक्षा का सवाल है. इसकी जांच होनी चाहिए और दोषी को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.



मुख्यमंत्री ने कहा कि सदन में मिला सफ़ेद पाउडर एक खतरनाक विस्फोटक था. सुरक्षा के बारे में अधिकारियों को कई बार अवगत करवाया गया. लेकिन उसके बाद भी विस्फोटक का सदन के अंदर पहुंचना एक गंभीर प्रकरण है.





मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकरण की जांच एनआईए से करवाने की सिफारिश करता हूं. इसके अलावा सदन की सुरक्षा की मॉनीटरिंग सीआईएसएफ से की जाएगी.  उन्होंने विधानसभा के सदस्यों से भी अपील की कि वे अपना सहयोग दें.
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के बाद से विधायक, मंत्रियों और कर्मचारियों और उनसे जुड़े लोगों का पुलिस वैरिफिकेशन करवाया जाएगा. इसके अलावा बिना पास के सचिवालय में अब कोई गाड़ी प्रवेश नहीं कर सकेगी. मंत्रियों, विधायकों और कर्मचारियों के अलावा अन्य सभी पास को निरस्त कर दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज