लाइव टीवी

डायल 112 सेवा शुरू कर बोले सीएम योगी- समय के साथ यूपी पुलिस ने किए कई सुधार

Kumari Ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: October 26, 2019, 11:58 AM IST
डायल 112 सेवा शुरू कर बोले सीएम योगी- समय के साथ यूपी पुलिस ने किए कई सुधार
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में एकीकृत आपात सेवा 112 का उद्घाटन किया.

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि मुझे बहुत प्रसन्नता है कि देश के सबसे बड़े पर्व दीपावली (Diwali) के पूर्व उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) की एकीकृत आपात सेवा 112 और वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा पहल 'सवेरा' का एक साथ यहां पर शुभारम्भ हो रहा है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Padesh) में डायल 112 (Dial 112) सेवा शुरू हो गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस सेवा की शुरुआत करते हुए कहा कि नई व्यवस्था में क्षेत्रीय भाषा में पुलिस पीड़ित से बात करेगी. मुझे बहुत प्रसन्नता है कि देश के सबसे बड़े पर्व दीपावली के पूर्व उत्तर प्रदेश पुलिस  की एकीकृत आपात् सेवा 112 और वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा पहल 'सवेरा' का एक साथ यहां पर शुभारम्भ हो रहा है. अब पुलिस, फायर, एम्बुलेंस की सेवा 112 से मिलेगी. नागरिक 112 में रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. 100, 102, 108 पर मिलने वाली मदद अब एक नंबर 112 से मिलेगी. सीएम योगी ने कहा कि कानून का राज स्थापित करने में पुलिस की बहुत बड़ी भूमिका है. तकनीक का इस्तेमाल कर पुलिस आमजन के नजदीक पहुंची. समय के अनुरूप पुलिस ने कई सुधार किए. मानवीय संवेदना के साथ करना, हम सबका दायित्व है.

कई आयोजनाें में मिली पुलिस के व्यवहार को तारीफ

सीएम ने कहा कि कुंभ का आयोजन हो या अप्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन. दोनों कार्यक्रमों में पुलिस के व्यवहार को काफी तारीफ मिली. देश के अंदर 112 को अंगीकार किया गया. अब 112 को ही प्रमोट करने की आवश्यकता है. अब लोगों को अलग अलग कार्यों के लिए अलग-अलग नंबर डायल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.  उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा के लिए की गई पहल की तरह महिला सुरक्षा के लिए पहल करनी चाहिए. एंटी रोमियो स्क्वाएड को महिला सुरक्षा के लिए थाने स्तर पर इस्तेमाल हो.

112 a
यूपी में 112 सेवा शुरू हुई.


एंबुलेंस से लेकर सभी सुविधाएं 112 पर कॉल कर मिलेंगीं

सीएम ने कहा कि अब लोगों को अलग-अलग कार्य के लिए अलग-अलग नंबर याद करने की आवश्यकता नहीं है. किसी को एंबुलेंस की सुविधा चाहिए तो वह 108 के साथ 112 पर कॉल कर सकता है. सीएम ने कहा कि कई बार ऐसा होता था कि किसी ने डायल 100 पर फोन किया तो भौगोलिक स्थिति आदि को देखते हुए हम चाह कर भी समय से पीड़ित व्यक्ति तक समय से नहीं पहुंच पा रहे थे. अब 112 लागू हो जाने से तकनीक के माध्यम से हम कम से कम रिस्पांस टाइम में पीड़ित व्यक्ति तक पहुंच पाएंगे. सीएम योगी ने कहा कि इस सेवा के आने के बाद आम नागरिकों, व्यापारियों, वरिष्ठ नागरिकों आदि को बेहतर सुविधा मिलेगी. सीएम ने कहा कि हम वरिष्ठ नागरिकों को विशेष तौर पर इससे सहायता दे सकेंगे. सीएम ने कहा कि वृद्ध दंपति अकेले घर में रहते हैं, उन्हें कोई सहारा नहीं है. मुझे लगता है कि इस सेवा से उन्हें काफी सहायता मिलेगी.

महिला सुरक्षा को लेकर सीएम ने दिए ये सुझाव
Loading...

सीएम ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एंटी रोमियो स्क्वॉड, घरेलू हिंसा को लेकर लागू की गई सेवा और 112 सेवा को एक प्लेटफॉर्म पर लाने की कोशिश की जानी चाहिए. थाना स्तर पर एक साथ इन सेवाओं को महिलाओं के लिए दिया जाए ताकि उनमें सुरक्षा की भावना बढ़े.

रिपोर्ट: कुमारी रंजना

ये भी पढ़ें:

अयोध्या में 6 दिसंबर से पहले शुरू होगा राम मंदिर निर्माण- साक्षी महाराज

2022 UP विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी बनेंगी कांग्रेस की सारथी: MLC दीपक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 11:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...