CM योगी के निर्देश- आगरा, मेरठ और कानपुर नगर में Lockdown का हो सख्ती से पालन
Agra News in Hindi

CM योगी के निर्देश- आगरा, मेरठ और कानपुर नगर में Lockdown का हो सख्ती से पालन
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि कोरोना पर नियंत्रण में निगरानी समितियों की बड़ी भूमिका है. सभी ग्राम पंचायतों और शहरी निकायों में वार्ड स्तर पर बेहतर सर्विलांस के लिए निगरानी समितियों को सक्रिय किया जाए.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने मंगलवार को अपने सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग पर उच्चस्तरीय बैठक में लॉकडाउन (Lockdown) व्यवस्था की समीक्षा की. इस दौरान सीएम ने आगरा (Agra), मेरठ (Meerut) और कानपुर नगर (Kanpur City) में लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए. सीएम ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर और कम्युनिटी किचन को जियो टैग किया जाए.

सीएम ने कहा कि कोरोना पर नियंत्रण में निगरानी समितियों की बड़ी भूमिका है. सभी ग्राम पंचायतों और शहरी निकायों में वार्ड स्तर पर बेहतर सर्विलांस के लिए निगरानी समितियों को सक्रिय किया जाए. ये समितियां होम क्वारेंटाइन की अवधि में प्रवासी कामगारों और मजदूरों के सर्विलांस का कार्य करेंगी. बाद में ये समितियां वृक्षारोपण और खाद्यान्न वितरण में भी उपयोगी भूमिका निभा सकती हैं. सीएम ने कहा कि समिति में ग्राम प्रधान, ग्राम चौकीदार, आशा कार्यकर्ता स्वच्छाग्रही, युवक मंगल दल और नेहरू युवा केंद्र के सदस्यों को शामिल किया जाए.

बारिश के मौसम की तैयारी अभी से शुरू करें



इसके साथ ही सीएम ने बारिश के मौसम में होने वाले संचारी रोगों की रोकथाम के लिए अभी से तैयारी शुरू करने के निर्देश दिए. स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचारी रोगों की रोकथाम संबंधी अंतर्विभागीय बैठक का आयोजन इसी सप्ताह से किया जाए. इंसेफेलाइटिस की दृष्टि से संवेदनशील जनपदों में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को तैयार रखा जाए. ग्राम्य विकास विभाग और नगर विकास विभाग अपने क्षेत्रों में स्वच्छता और पेयजल व्यवस्था का निर्वहन करे.
50 लाख मनरेगा के रोजगार से जुड़ें

सीएम ने कहा कि प्रवासी कामगार और श्रमिकों को विभिन्न स्थानों पर उनकी स्किल के अनुरूप रोज़गार देने की व्यवस्था उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में संभव है. इस क्रम में हमने नीतियां बनाई हैं. कार्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए हमने रोडमैप तैयार किया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम, एमएसएमई सेक्टर में लाखों लोगों को रोज़गार मुहैया कराया जा सकता है. उन्होंने कि हमारा प्रयास होना चाहिए कि प्रतिदिन 50 लाख लोग प्रदेश में मनरेगा के रोज़गार के साथ जुड़ें.

ये भी पढ़ें:  मेरठ Lockdown में फंसे मजदूर परिवार की राजस्थान सरकार से गुहार- वापस बुला लो

Lockdown: योगी बोले- प्रतिदिन 50 लाख लोगों को 'मनरेगा' से जोड़ने का हो प्रयास
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज