जहरीली शराब कांड पर CM योगी के तेवर सख्त- दोषियों पर लगे गैंगस्टर, संपत्ति जब्त कर दें पीड़ितों को मुआवजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने निर्देश दिया है कि जहरीली शराब बेचने वालों पर प्रशासन गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करे. यही नहीं जो भी इस मामले में दोषी पाए जाएं, उनकी संपत्ति को प्रशासन द्वारा जब्त किया जाए और इसके बाद संपत्ति नीलाम कर पीड़ितों को मुआवजा दिया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 1:03 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में लगातार सामने आ रहे जहरीली शराब कांड (Poisonous Liquor Case) से हड़कंप मचा हुआ है. मथुरा (Mathura), फिरोजाबाद (Firozabad), लखनऊ (Lucknow) के बाद अब प्रयागराज (Prayagraj) में 6 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो चुकी है. मामले में योगी सरकार की तरफ से कार्रवाई भी की गई है. लखनऊ और फिरोजाबाद के आबकारी अधिकारियों को हटाने के साथ ही पिछले दिनों लखनऊ पुलिस कमिश्नर पर भी गाज गिरी. वहीं अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज की घटना के बाद सख्त तेवर अख्तियार कर लिए हैं.

जब्त करें संपत्ति, नीलाम कर बांटें मुआवजा

प्रयागराज में हुई मौतों पर सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि जहरीली शराब बेचने वालों पर प्रशासन गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करे. यही नहीं जो भी इस मामले में दोषी पाए जाएं, उनकी संपत्ति को प्रशासन द्वारा जब्त किया जाए और इसके बाद संपत्ति नीलाम कर पीड़ितों को मुआवजा दिया जाए.



प्रियंका ने उठाए सवाल
बता दें जहरीली शराब कांड को लेकर प्रदेश में सियासत भी तेज हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर योगी सरकार को घेरा है. उन्होंने लिखा है कि यूपी में लखनऊ, फिरोजाबाद, हापुड़, मथुरा, प्रयागराज समेत कई जगहों पर जहरीली शराब से मौतें हुई हैं. आगरा, बागपत मेरठ में जहरीली शराब से मौतें हुई थीं. आखिर क्या कारण है कि कुछ दिखावटी कदमों की बजाय सरकार जहरीली शराब के माफियाओं पर कार्रवाई करने में नाकाम रही है? कौन जिम्मेदार है?



प्रयागराज में अब तक 6 की मौत

बता दें प्रयागराज में फूलपुर थाना क्षेत्र के अमिलिया गांव में जहरीली देशी शराब कांड मामले में मरने वालों की संख्या बढ़कर छह हो गई है. पान विक्रेता कि गुरुवार रात हुई मौत जबकि पांच अन्य ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया था. वहीं शराब पीने से गंभीर व्यक्तियों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

ठेका संचालिका और पति भी गिरफ्तार

मामले में सरकारी देशी शराब ठेका की संचालिका संगीता देवी जयसवाल और उसका पति श्याम बाबू जयसवाल को गिरफ्तार कर लिया गया है. इससे पहले  सेल्समैन जगजीत सिंह की बीती रात ही गिरफ्तारी हो चुकी है. 4 अन्य व्यक्तियों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है.  सभी पर नकली शराब बेचने का आरोप है. फूलपुर आबकारी निरीक्षक की तहरीर पर धारा 304, 308, 272, 273, व आबकारी अधिनियम 60, 63, 64ए के तहत दर्ज एफआईआर दर्ज हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज