UP में COVID-19 की तर्ज पर ब्लैक फंगस भी अधिसूचित बीमारी, सीएम योगी ने दिया आदेश

सीएम योगी ने ब्लैक फंगस को अधिसूचित बीमारी घोषित करने का निर्देश दिया है. (File Photo)

Lucknow News: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि केंद्र सरकार के निर्देशों के क्रम में कोविड की तर्ज पर ब्लैक फंगस को भी 'अधिसूचित बीमारी' (Notified Disease) घोषित किया जाए. आदेश आज ही जारी कर प्रभावी करा दिया जाए. इसकी दवा की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए.

  • Share this:
    लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनथ (CM Yogi Adityanath) ने यूपी में ब्लैक फंगस (Black Fungus) के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अहम निर्देश शुक्रवार को दिए. बता दें कोरोना संक्रमण और ब्लैक फंगस को लेकर सीएम योगी लगातार बैठक कर ग्राउंड जीरो की रिपोर्ट ले रहे हैं और अफसरों को निर्देश दे रहे हैं. सीएम योगी ने कहा कि पोस्ट कोविड अवस्था में ब्लैक फंगस के संक्रमण की समस्या बढ़ रही है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुरूप प्रदेश सरकार सभी मरीजों के समुचित चिकित्सकीय उपचार की व्यवस्था कर रही है. केंद्र सरकार के निर्देशों के क्रम में कोविड की तर्ज पर ब्लैक फंगस को भी 'अधिसूचित बीमारी' (Notified Disease) घोषित किया जाए. इस संबंध में आदेश आज ही जारी कर प्रभावी करा दिया जाए. सीएम योगी ने कहा कि इसकी दवा की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए.

    कोविड -19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-9 को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 7735 मामले प्रकाश में हैं. यह बीते माह 24 अप्रैल को प्रकाश में आए कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक मामलों की संख्या से 30,320 कम हैं. विगत 24 घंटो में 17,668 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को उपचार के पश्चात डिस्चार्ज किया गया है. प्रदेश में अब कोरोना के कुल एक्टिव मामलों की संख्या 1,03,276 है. इस प्रकार प्रदेश में 30 अप्रैल, 2021 को दर्ज किए गए कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक एक्टिव मामलों 3,10,783 में 68 प्रतिशत की कमी आयी है.



    रिकवरी दर बढ़कर 92.5 फीसदी हुई

    उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर में निरन्तर वृद्धि हो रही है. वर्तमान में यह दर बढ़कर 92.5 प्रतिशत हो गई है. विगत 24 घण्टों में राज्य में 2,89,210 टेस्ट सम्पन्न किए गए हैं. प्रदेश में अब तक 4 करोड़ 61 लाख 12 हजार 448 कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं.

    सीएम ने कहा कि गांवों को कोरोना से सुरक्षित रखने के उद्देश्य से संचालित वृहद टेस्टिंग अभियान के अच्छे परिणाम मिल रहे हैं. निगरानी समितियों और आरआरटी टीमें बहुत सराहनीय कार्य कर रही हैं. आज जबकि प्रदेश में संक्रमण दर लगातार कम होता जा रहा है, ऐसे में इस प्रक्रिया को मिशन रूप में लिए जाने की जरूरत है. सभी गांवों में जागरूकता बढ़ाई जाए. ऐसे प्रयास हों जिससे कोरोना मुक्त गांव के संदेश को हर ग्रामवासी अपना लक्ष्य बनाए.

    इनपुट: अजीत सिंह/अनामिका सिंह