लाइव टीवी

भ्रष्टाचार पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- नेता हो, अफसर हो या फिर अपराधी किसी को नहीं छोड़ेंगे

Ajeet Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: October 14, 2019, 11:13 AM IST
भ्रष्टाचार पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- नेता हो, अफसर हो या फिर अपराधी किसी को नहीं छोड़ेंगे
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भ्रष्टाचार और अपराध पर सरकार की नीति जीरो टॉलरेंस की है

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि उनकी सरकार ने एक साल तक सभी को सुधरने का भरपूर मौका दिया. लेकिन उसके बाद दूसरे साल में 1000 अफसरों व कर्मचारियों को जबरन रिटायरमेंट (Forced Retirement) दिया गया. 200 अफसरों पर भी जल्द कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा है कि भ्रष्टाचार व अपराध पर उनकी सरकार जीरो टॉलरेंस (Zero Tolerance) की नीति पर आगे बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि नेता हो, अफसर हो या फिर अपराधी किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने एक साल तक सभी को सुधरने का भरपूर मौका दिया. लेकिन उसके बाद दूसरे साल में 1000 अफसरों व कर्मचारियों को जबरन रिटायरमेंट (Forced Retirement) दिया गया. 200 अफसरों पर भी जल्द कार्रवाई की जाएगी.

न्यूज18 से खास बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि करप्शन हो या फिर क्राइम, सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति पर आगे बढ़ रही है. यह बात हमने विधानसभा चुनाव के पहले अपने संकल्प पत्र में भी कही थी. मैंने पूरे प्रदेश में जनपद स्तर की बैठक भी की. पुलिस अधिकारियों की बैठक में भी बार-बार लोगों से इस बारे में कहा है कि हमारा उद्देश्य एक ही है. प्रदेश का सर्वांगीण विकास हमारा लक्ष्य है. समाज के अंतिम पद पर बैठे आदमी तक विकास ले जाने का लक्ष्य है. शासन की योजना समान रूप से आम आदमी तक पहुंचे, इस मुद्दे पर किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं हो सकता है. गरीब के हक पर डकैती डालने वाला व्यक्ति कोई भी हो उसे हम सजा देंगे.

200 अफसरों पर कार्रवाई जल्द

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने एक साल तक लोगों को सुधरने का भरपूर अवसर दिया. दूसरे साल से ऐसे लोगों को जो अयोग्य थे, अक्षम थे, बेईमान और भ्रष्ट थे उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया. लगभग 1000 के आसपास अधिकारी और कर्मचारियों को अब तक हम लोगों ने इटावा से मुक्त किया है. उसको बर्खास्त किया है और अभी लगभग 200 के आसपास अफसरों पर कार्रवाई इस समय प्रचलित है. जिसमें हम बहुत शीघ्र ही कार्रवाई करने जा रहे हैं.

प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति पिछले 20 वर्षों में सबसे अच्छी

मुख्यमंत्री ने कहा, "अभी हमने एक और चीज अपने प्रदेश में किया है. जनता के प्रति जवाबदेही के लिए आइजीआरएस जनसुनवाई का जो कार्यक्रम है उसमें ऑनलाइन शिकायत की व्यवस्था तो है ही. साथ ही सीएम हेल्पलाइन के जरिए कहीं से भी शिकायत आती है तो एक एंटी करप्शन पोर्टल भी हम लोगों ने बनाया है. कोई भी भ्रष्टाचार से जुडी जानकारी देता है तो हम कार्रवाई करेंगे. जवाबदेही के लिए जनपद स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं. इन दोनों को और प्रभावी बनाने की कार्रवाई की जा रही है. मैं फिर कह सकता हूं कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति पिछले 20 वर्षों में सबसे अच्छी स्थिति में है. इसको और भी बेहतर बनाने की दिशा में सरकार काम कर रही है. इसमें पुलिस बल के आधुनिकरण के साथ-साथ उनके बुनियादी सुविधाओं को बढ़ाने के लिए भी सरकार ने कार्रवाई प्रारंभ कर दिया है. भर्ती की प्रक्रिया को भी आगे बढ़ाएंगे.

ये भी पढ़ें:
Loading...

कुएं से अचानक आने लगी रहस्यमयी आवाज, ग्रामीण डर के मारे छोड़ने लगे घर

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर 120 की स्पीड से फर्राटा भरेंगी गाड़ियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 11:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...